मधेपुरा जिला में शनिवार को एक साथ 22 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले, बना दहशत का माहौल

बता दें कि जिले में शनिवार को बारिश की तरह कोरोना ने कोहराम मचा दिया जहां एक साथ 22 कोरोना पॉजिटिव मरीज निकले। इस 22 कोरोना पॉजिटिवों में 13 चौसा एवं 2 आलमनगर प्रखंड से जबकि 3 गम्हरिया प्रखंड से है। गम्हरिया के तीनों मरीज नोएडा से आए थे।

यह भी जानिए कि अब तक मधेपुरा जिला में कोरोना मरीज की कुल संख्या 200 हो गई है जिसमें 160 मरीज इलाज के बाद कोरोना मुक्त होकर घर जा चुके हैं। जिले में कोरोना मरीज के एक्टिव मामले फिलहाल मात्र 40 हैं।

बकौल डॉ.फूल कुमार बाहर से यात्रा करने वाले कोरोना पॉजिटिव लोगों के साथ रहने पर उन्हें बुखार, सूखी खांसी एवं सांस में तकलीफ जैसे दिखे तो वैसे मरीजों का स्कैनिंग कराया जाता है। यदि स्कैनिंग के दौरान कोई संदिग्ध मरीज पाया जाता है तो उन्हें आइसोलेशन वार्ड में कुछ दिनों के लिए रखा जाता है। जब उसकी तबीयत में सुधार नहीं आती है तब उसे जननायक कर्पुरी मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया जाता है।

चलते-चलते यह भी जानिए कि गुरुवार को जीवछपुर से कुल 50 व्यक्ति का सैंपल लिया गया था जिसमें मात्र तीन कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे। सूबे बिहार के 28 जिलों में शनिवार को 180 कोरोना  संक्रमितों की पहचान की गई जिसके साथ राज्य में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 8858 हो गई। जबकि मृतकों की संख्या बढ़कर अब 58 हो गई है। कोरोना मुक्त होने वाले मरीजों की संख्या 6930 हो चुकी है।

सम्बंधित खबरें