All posts by Admin

मधेपुरा में भारतरत्न डॉ.कलाम की 87वीं जयन्ती मनी

मधेपुरा के तुलसी पब्लिक स्कूल में गाँधीयन मिसाइल मैन कहलाने वाले भारतरत्न डॉ.एपीजे अब्दुल कलाम की 87वीं जयन्ती समारोहपूर्वक मनाई गई | यह समारोह सर्वाधिक उत्साह, उमंग एवं सादगी के साथ शिक्षकों एवं छात्रों की उपस्थिति में मनाया गया |

सर्वप्रथम डॉ.कलाम की तस्वीर पर उद्घाटनकर्ता समाजसेवी डॉ.भूपेन्द्र नारायण मधेपुरी, मुख्य अतिथि श्यामल कुमार सुमित्र सहित शिक्षकों एवं छात्र-छात्राओं ने पुष्पांजलि की | फिर डॉ.कलाम के जीवनवृत्त पर विस्तार से प्रकाश डालते हुए डॉ.मधेपुरी ने संबोधन के अंत में बच्चों से यही कहा-

“जो कुछ करने का संकल्प लो उसे जुनून एवं आत्मविश्वास के साथ पूरा करो | आत्मविश्वास तुम्हारे जीवन में अद्भुत चमत्कार ला सकता है……… केवल उसे अपने मन-प्राणों में निरंतर उतारने की कोशिश में लगे रहो |”

Dr.Madhepuri with kids and teachers with full of Spirit during the Missileman Dr.APJ Abdul Kalam's 87th Happy Birthday celebration at Tulsi Public School Madhepura.
Dr.Madhepuri with kids and teachers with full of Spirit during the Missileman Dr.APJ Abdul Kalam’s 87th Happy Birthday celebration at Tulsi Public School Madhepura.

इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रुप में तुलसी पब्लिक स्कूल के निदेशक श्यामल कुमार सुमित्र ने कहा कि डॉ.कलाम दुनिया के पहले ऐसे राष्ट्रपति थे जिन्होंने राष्ट्रपति भवन में हो रहे अपने शपथ-ग्रहण समारोह में देश के सौ स्कूली बच्चे-बच्चियों को आमंत्रित किया था |

बता दें कि समारोह की अध्यक्षता कर रहे प्राचार्य डॉ.हरिनंदन प्रसाद यादव ने अपने संबोधन में डॉ.कलाम के अनुशासन प्रियता की चर्चा करते हुए स्कूल में उपस्थिति एवं अनुशासन को लेकर सर्वश्रेष्ठ छात्र के रूप में वर्ग-2 के मनदीप कुमार एवं छात्रा समूह में वर्ग 5 की आस्था कुमारी के नाम की घोषणा की | इन दोनों को उद्घाटनकर्ता डॉ.मधेपुरी के हाथों मोंमेंटो देकर पुरस्कृत किया गया |

यह भी जानिए कि “डॉ.कलाम के व्यक्तित्व एवं कृतित्व” विषय पर भाषण प्रतियोगिता का भी आयोजन किया गया था | शिक्षक द्वय वरुण कुमार वर्मा एवं नरेश कुमार के संरक्षण में लगभग एक दर्जन छात्र-छात्राओं यथा आस्था प्रिया, लक्ष्मी, निधि, छवि, आर्यन, प्रियांशु, अभिनव, नीरज…….. आदि ने हिन्दी व अंग्रेजी में भाषण दिया और तालियाँ भी बटोरी | पुरस्कार स्वरूप मिठाइयाँ व चाकलेट्स  का वितरण किया गया | समारोह को सफल बनाने में विभीषण कुमार, मनीषा कुमारी, माधुरी यादव, आशुतोष कुमार, आदित्य आदि की भूमिका महत्वपूर्ण रही | अंत में वरुण कुमार वर्मा द्वारा धन्यवाद ज्ञापन और अध्यक्ष के निर्देशानुसार कार्यक्रम समाप्ति की घोषणा की गयी |

सम्बंधित खबरें


और राहुल ने ली मोदी की सही वक्त पर सही चुटकी

वैसे तो कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी प्रारंभ से प्रधानमंत्री मोदी नरेन्द्र मोदी और भारतीय जनता पार्टी को लेकर आक्रामक रुख अपनाते रहे हैं, लेकिन ज्यादातर मौकों पर उनकी ‘टाइमिंग’ और ‘पंच’ सटीक नहीं रहे। पर इधर कुछ दिनों से उन्होंने जैसी परिपक्वता दिखाई है, वह वाकई काबिले तारीफ है। कहना गलत न होगा कि उन्होंने अब मौके पर चौका लगाना सीख लिया है। अब ताजा उदाहरण ही लीजिए। राहुल ने प्रधानमंत्री मोदी पर चुटकी भरे अंदाज में हमला बोला है। उन्होंने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के पाकिस्तान के समर्थन में किए गए ट्वीट पर मोदी की चुटकी ली है। चलिए जानते हैं कि मामला क्या है?

दरअसल, पाकिस्तानी सुरक्षा बलों द्वारा एक अमेरिकी परिवार को हक्कानी नेटवर्क के चंगुल से छुड़ाने के बाद ट्रंप ने इस बाबत पाकिस्तान की तारीफ करते हुए ट्वीट किया था। ट्रंप के इस ट्वीट –  Starting to develop a much better relationship with Pakistan and its leaders. I want to thank them for their cooperation on many fronts. – के जवाब में राहुल ने ट्वीट करते हुए लिखा – जल्दी कीजिए मोदीजी, लगता है राष्ट्रपति ट्रंप को एक और झप्पी की जरूरत है (Modiji quick; Modiji, quick; looks like President Trump needs another hug)।

बता दें कि अमेरिका काफी समय से पाकिस्तान को आतंक का समर्थन करने के लिए फटकार लगाता रहा है। अमेरिका और पाकिस्तान के बीच बढ़ते मतभेद को भारत की कूटनीतिक जीत के तौर पर भी देखा जा रहा था। इसी साल जून में पीएम मोदी और ट्रंप की मुलाकात हुई थी, जिसमें उन्होंने भारत को अपना ‘सच्चा साथी’ बताया था। खबरें है कि अब भारत के अधिकारी इस बात का इंतजार कर रहे हैं पाक को लेकर अमेरिका की अगली प्रतिक्रिया क्या होगी? बहरहाल, राहुल ने सही समय पर सही निशाना तो साध लिया ही है।

सम्बंधित खबरें


मधेपुरा के लोहियावादियों ने मनाई डॉ.लोहिया की 51वीं पुण्यतिथि

मधेपुरा के शिवनन्दन प्रसाद मंडल विधि महाविद्यालय के सभागार में विश्व के महान समाजवादी चिंतक डॉ.राम मनोहर लोहिया की 51वीं पुण्यतिथि जद(यू) के बैनर तले काफी उत्साह व उमंग के साथ मनाई गई | यह आयोजन देर शाम तक जद(यू) जिलाध्यक्ष प्रो.बिजेन्द्र नारायण यादव एवं जिला महिला प्रकोष्ठ की अध्यक्षा श्रीमती मीना देवी की अध्यक्षता में संयुक्तरुप से गतिमान रहा |

बता दें कि जिले के सभी प्रखंडों से आई महिला सेल के सचिव व अध्यक्ष, विधि महाविद्यालय के कर्मियों सहित प्राचार्य प्रो.सत्यजीत यादव एवं जिले भर से आये लोहियावादियों ने डॉ.लोहिया के विशाल सिद्धांतवादी व्यक्तित्व की जमकर चर्चाएं की और हृदय से श्रद्धांजलि भी अर्पित की |

यह भी जानिए कि इस पुण्यतिथि समारोह के आरंभ में उद्घाटनकर्ता के रूप में पूर्व विधि मंत्री सह वर्तमान जनप्रिय विधायक नरेन्द्र नारायण यादव (आलमनगर), मुख्यवक्ता के रूप में समाजसेवी-शिक्षाविद डॉ.भूपेन्द्र नारायण मधेपुरी एवं जिला संगठन प्रभारी अमर कुमार चौधरी उर्फ़ भगवान चौधरी, नेत्री गुड्डी देवी, जिप सदस्या बुलबुल सिंह आदि सहित उपस्थित समस्त नर-नारियों द्वारा डॉ.लोहिया के तैल चित्र पर माल्यार्पण किया गया तथा पुष्पांजलि अर्पित की गई | साथ ही उपस्थित जनों को नीतीश सरकार के “बाल विवाह एवं दहेज” के विरुद्ध शपथ-ग्रहण भी कराया गया |

इस अवसर पर जहाँ उद्घाटनकर्ता नरेन्द्र नारायण यादव ने देर तक उद्गार व्यक्त करते हुए कहा कि डॉ.लोहिया राष्ट्रीय स्तर पर ही नहीं बल्कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी काले-गोरे के बीच की खाई को पाटने के लिए संघर्ष करते रहे वहीं मुख्य वक्ता डॉ.मधेपुरी ने विस्तार से लोहिया के समाजवाद की बारीकियों को मनीषी भूपेन्द्र नारायण मंडल को संदर्भित करते हुए विभिन्न उदाहरणों के साथ सबों को मंत्रमुग्ध कर देर तक बाँधे रखा | जहां संगठन प्रभारी भगवान चौधरी ने डॉ.लोहिया को स्पष्टवादिता, निर्भीकता एवं सीधे-सपाट तर्कपूर्ण विचारों का पुंज कहा वहीं व्यवसायिक प्रकोष्ठ के अध्यक्ष अशोक चौधरी एवं दलित  प्रकोष्ठ के अध्यक्ष नरेश पासवान ने बखूबी मंच संचालन किया और अंत में अल्पाहार के साथ धन्यवाद ज्ञापन करते हुए डॉ.नीलाकान्त ने समारोह के समाप्त होने की उद्घोषणा की |

सम्बंधित खबरें


कोसी के युवाओं को मधेपुरा रेल फैक्ट्री में मिलेंगे रोजगार के नये अवसर

आज से मधेपुरा रेल फैक्ट्री में रेल विद्युत इंजन निर्माण कार्य शुरू होने से विकास के नये द्वार खुलने लगे हैं | 100-100 करोड़ के कई छोटी-बड़ी औद्योगिक इकाइयाँ स्थापित होने की संभावनाएँ बन रही हैं | लोग आने लगे हैं |

बता दें कि डायनेमिक डीएम मो.सोहैल ने मधेपुराअबतक को बताया कि कुछ कंपनियों ने तो जमीन उपलब्ध कराने के लिए उनसे मुलाकात भी की है | उन्होंने यह भी कहा कि रेल विद्युत कारखाना के आस-पास अन्य प्रकार की कई फैक्ट्रियों के स्थापित होते ही पूरा क्षेत्र औद्योगिक हब के रूप में विकसित होने लगेगा | रोजगार के व्यापक अवसर पैदा होने की संभावना भी प्रबल हो गयी है जो इस क्षेत्र की बड़ी समस्या बनी हुई है | कदाचित आनेवाले समय में पलायन भी रूकेगा |

यह भी बता दें कि डीएम मो.सोहैल ने कहा कि कोसी एवं सीमांचल के ITI एवं विभिन्न ट्रेडों में पॉलिटेक्निक किये युवाओं को प्राथमिकता दी जायेगी | डीएम ने इस धरती को नमन करते हुए कहा कि 4 अक्टूबर 2016 को फैक्ट्री निर्माण के लिए डिप्टी चीफ इंजीनियर के.के.भार्गव व अन्य की उपस्थिति में भूमि पूजन किया गया था और एक वर्ष 7 दिन के बाद पहला इंजन आज से बनना तैयार हो गया है जबकि भारत सरकार से 1000 इंजन खरीदने का आर्डर भी प्राप्त हो चुका है | मधेपुरा की धरती के लिए यह अद्भुत उपलब्धि है | फैक्ट्री पर कुल 26000 करोड़ की लागत का अनुमान है |

अंत में यह भी जानिए कि मधेपुरा के समाजसेवी शिक्षाविद डॉ.भूपेन्द्र नारायण मधेपुरी ने मधेपुराअबतक के समक्ष उद्गार व्यक्त करते हुए यही कहा कि स्मरण कीजिए 26 जनवरी, 2016 को पीएम नरेन्द्र मोदी और फ्रांस के राष्ट्रपति ने कांट्रेक्ट पर हस्ताक्षर किया था और समय से छह माह पूर्व फैक्ट्री बनकर तैयार हो गया और उत्पादन भी आज से आरम्भ हो गया- जिसमें भूमि मुहैया कराने से लेकर हर पल फैक्ट्री निर्माण हेतु विद्युत विभाग से लेकर टाटा-प्रोजेक्ट्स पर दवाब बनाये रहने वाले मो.सोहैल का “आराम हराम है” वाला जीवन-सूत्र अहर्निश कार्यरत रहा……… यही कारण है कि मधेपुरा डीएम हाल ही में सीएम नीतीश कुमार द्वारा पुरस्कृत किये गये हैं……. वह दिन दूर नहीं जब डायनेमिक डीएम मो.सोहैल पीएम नरेन्द्र मोदी द्वारा भी पुरस्कार ग्रहण कर मधेपुरा जिला को गौरवान्वित करेगा….. बिहार को यश दिलायेगा और स्वयं यशस्वी बनेगा |

सम्बंधित खबरें


अब सभी बिजली उपभोक्ताओं के लिए होगा प्रीपेड मीटर- ऊर्जा मंत्री

बिहार के ऊर्जावान बिजली मंत्री बिजेन्द्र प्रसाद यादव ने यह घोषणा की कि जिस प्रकार प्रीपेड मोबाइल में पैसे कटते हैं, उसी प्रकार प्रीपेड बिजली मीटर में जितनी बिजली की खपत होगी उतनी ही राशि कटती जायेगी | राज्य के कर्मठ ऊर्जा मंत्री ने बिहारवासियों से कहा कि इस कार्यक्रम से जहाँ एक ओर बिजली का दुरुपयोग रुकेगा वहीं दूसरी ओर बिजली बचाने के लिए उपभोक्ताओं की जिम्मेदारी भी बढ़ेगी | साथ ही राज्य के सभी सेक्टरों को निर्बाधरुप से बिजली मिलती रहेगी चाहे वो औद्योगिक क्षेत्र हो या कृषि क्षेत्र अथवा अन्य कोई भी क्षेत्र क्यों न हो |

यह भी बता दें कि उपभोक्ताओं द्वारा निरंतर की जा रही शिकायत कि नियमित रूप से समय पर बिजली बिल नहीं दिये जाते हैं- जिसके फलस्वरूप बिल भुगतान नहीं किये जाने की समस्याओं को दूर करने हेतु राज्य सरकार की रीढ़ माने जानेवाले ऊर्जामंत्री  द्वारा यह कदम उठाया गया है | ऊर्जा मंत्री ने यह भी कहा कि मुख्यमंत्री के सात निश्चयों के तहत हर घर को बिजली देने की योजनान्तर्गत 15 से 20% घरों में बिजली नहीं पहुंच पायी है- उसे 2018 के मार्च तक पहुँचा दिया जायेगा |

यह भी जानिए कि दीपावली के बाद राज्य के हर पंचायत में कनेक्शन-करेक्शन अभियान की शुरुआत होगी | इस अभियान में बिजली के प्रीपेड मीटर कनेक्शन एवं अन्य करेक्शन ऑन स्पॉट दूर कर दिया जायगा | बिल देने का झंझट समाप्त होगा और उपभोक्ताओं के मोबाइल पर ही हमेशा बिल आ जायेगा | बिल का भुगतान भी उपभोक्ता ऑनलाइन करते रहेंगे……. तथा विविध प्रकार की परेशानियों से बचते रहेंगे |

अंत में ऊर्जा मंत्री बिजेन्द्र यादव ने मधेपुराअबतक को बताया कि इस योजना से राज्य के रेवेन्यू का ग्राफ तो बढ़ेगा ही बढ़ेगा, साथ ही लोगों द्वारा अलग से बिल देने का झंझट व परेशानी भी समाप्त हो जायेगा | उन्होंने यह भी कहा कि एग्रीकल्चर फीडर के लिए वर्ल्ड बैंक से ऋण मुहैया करा लिया गया है जिसका उद्घाटन मुख्यमंत्री द्वारा इसी वर्ष नवंबर माह में होने जा रहा है | और आगे बरौनी, कांटी, नवीनगर सहित कजरा-पीरपैंती के सभी यूनिटों व सोलर पावर प्रोजेक्टस मिलाकर बिहार को 6000 मेगावाट बिजली देने की क्षमता होगी और तब बिहारवासियों को चौबीसों घंटे बिजली मिलती रहेगी |

सम्बंधित खबरें


उल्लासपूर्वक मनेगी बीएनएमयू की रजत जयंती- कुलपति

जहाँ एक ओर बी.एन. मंडल विश्वविद्यालय के कर्मठ कुलपति डॉ.अवध किशोर राय की अध्यक्षता में हुई सिंडिकेट की 5 अक्टूबर वाली बैठक में वित्तीय वर्ष 2018-19 के लिए 1300 करोड़ का अनुमानित बजट पेश किया गया वहीं दूसरी ओर बीएनएमयू की स्थापना के 25वें वर्ष पर उमंग के साथ रजत जयंती मनाने की घोषणा करते हुए पांच सदस्यों वाली उच्चस्तरीय समिति भी गठित कर दी गई- जिसके अध्यक्ष होंगे प्रतिकुलपति डॉ.फारुख अली तथा चार सदस्य होंगे- एफओ श्री सीके डीगवाल, डीन सोशल सायंस डॉ.शिवमुनि यादव, सीनेट सदस्य डॉ.नरेश कुमार एवं विश्वविद्यालय अभियंता उमेश कुमार |

बता दें कि कुलपति डॉ. ए.के. राय द्वारा सर्वप्रथम सिंडिकेट के सदस्यों का स्वागत किया गया और लगे हाथ उन्होंने सदस्यों द्वारा शिक्षा एवं शिक्षकों की समस्याओं से संबंधित ढेर सारे प्रश्नों में से एक के जवाब में यही कहा कि सभी सेवानिवृत्त शिक्षकों एवं शिक्षकेत्तर कर्मचारियों की समस्याओं का समाधान उनकी सर्वोच्च प्राथमिकता है | विगत माह में ‘पेंशन अदालत’ लगाया था जिसमें लगभग ढाई सौ में से डेढ़ सौ मामलों पर सुनवाई पूरी हो चुकी है | आगामी अदालत में सभी एरियर वालों को चेक हस्तगत करा दिया जायेगा | अन्य सभी मामलों को तीन चरणों में- (i) आरंभ से 2000 तक (ii) 2001 से 2007 तक और (iii) 2008 से अबतक को भी पूरा कर लिया जायेगा | इसी तरह सदस्यों के अन्य प्रश्नों के भी ठोस जवाब देते गए कुलपति डॉ.ए.के. राय और उनकी पूरी टीम के पदाधिकारीगण |

यह भी जानिए कि जब मधेपुराअबतक द्वारा समाजसेवी-साहित्यकार डॉ.भूपेन्द्र नारायण यादव मधेपुरी से वर्तमान कुलपति डॉ.राय द्वारा इस विश्वविद्यालय में अब तक के किये गये कार्यों पर टिप्पणी करने के लिए यह कहते हुए कहा गया कि प्राप्त जानकारी के अनुसार आप और कुलपति महोदय एक साथ प्रदेश के सर्वश्रेष्ठ कॉलेज टी.एन.बी. (भागलपुर विश्वविद्यालय) में शिक्षा ग्रहण किये हैं और आपने उनके सीनियर के रूप में एक ही छात्रावास में रहकर अध्ययन भी किया है- तो डॉ.मधेपुरी ने संक्षिप्त टिप्पणी में यही कहा-

“बी.एन. मंडल विश्वविद्यालय की शैक्षणिक एवं प्रशासनिक व्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए कुलपति डॉ.राय का अपने अधिकारियों, पदाधिकारियों एवं कर्मचारियों से यह कहना कि लंबित संचिकाओं का निष्पादन 3 दिनों के अंदर नहीं करने पर संबंधित व्यक्ति पर विभागीय कार्रवाई आरंभ की जायेगी…… और विशेष परिस्थिति में अधिकतम समय 15 दिनों का दिये जाने का निर्णय कुलपति के दृढ़ संकल्प को ही तो दर्शाता है |”

यह भी बता दें कि मंडल विश्वविद्यालय के अधिकारी-पदाधिकारी के रूप में विभिन्न पदों पर कार्य कर चुके डॉ.बी.एन.यादव मधेपुरी ने प्रसन्नता जाहिर करते हुए कहा कि कुलपति डॉ.ए.के. राय एवं प्रतिकुलपति डॉ.फारुख अली द्वारा शहीद चुल्हाय पार्क एवं कीर्ति नारायण पार्क को आदर्श पार्क के रूप में तब्दील करने और विश्वविद्यालय जिम सहित विभिन्न विषयों के सोसाइटीज आदि को पुनर्जीवित करने की योजनाओं से निश्चय ही विश्वविद्यालय परिसर गुलजार होगा |

अंत में मधेपुरा का डॉ.कलाम कहे जाने वाले डॉ.मधेपुरी ने कहा कि ऐसा लगता है कि वर्तमान कुलपति व प्रतिकुलपति डॉ.एपीजे अब्दुल कलाम की तरह अपने कार्यकाल में कदाचित दो चार दिनों की ही छुट्टी लेंगे | जब ये दोनों विश्वविद्यालय में रहेंगे तो विश्वविद्यालय ऊंचाइयों को प्राप्त करेगा ही करेगा और रजत जयंती की धूम जब मचेगी तब तक में तो विकास का परचम दूर से ही लहराता हुआ सबों को दिखने लगेगा |

सम्बंधित खबरें


इस साल धन की वर्षा करेगी शरद पूर्णिमा

इस साल आश्विन शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा यानि शरद पूर्णिमा के दिन सितारे अद्भुत संयोग बना रहे हैं। ऐसा संयोग जो आप पर धन और ऐश्वर्य की वर्षा कर देगा। बस आपको करनी होगी सच्‍चे भाव से मां लक्ष्‍मी की पूजा। जी हां, मां लक्ष्मी, शास्त्रों के अनुसार जिनका जन्म शरद पूर्णिमा के दिन ही हुआ था।

शरद पूर्णिमा को लेकर मान्यता है कि इस दिन देवी लक्ष्मी अपने वाहन उल्लू पर बैठकर भगवान विष्णु के साथ पृथ्वी का भ्रमण करने आती हैं। इसलिए आसमान पर चन्द्रमा भी सोलह कलाओं से चमकता है। शरद पूर्णिमा की धवल चांदनी रात में जो भक्त भगवान विष्णु सहित देवी लक्ष्मी और उनके वाहन की पूजा करते हैं, उन्हें देवी लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होती है।

यही नहीं, ऐसा विश्वास किया जाता है कि इस दिन चंद्रमा की किरणों से अमृत टपकता है और ये किरणें हमारे लिए भाग्यवर्द्धक होती हैं। ज्योतिषशास्त्र की मानें तो पूरे वर्ष में सिर्फ इसी दिन चंद्रमा अपनी 16 कलाओं से परिपूर्ण होकर धरती पर अपनी अद्भुत छटा बिखेरता है। यही कारण है कि लोग रात में खीर बनाकर खुले आसमान के नीचे रखकर अगले दिन सुबह उसे प्रसाद के रूप में खाते हैं।

शरद पूर्णिमा जो पहले ही इतने शुभ का कारक है, इस साल और भी शुभ होकर आया है। गौरतलब है कि इस साल शरद पूर्णिमा गुरुवार को है और गुरु धन और सुख के कारक ग्रह हैं। उस पर चन्द्रमा भी गुरु की राशि मीन में है जो एक बड़ा शुभ संयोग है। अगला संयोग यह कि देवी लक्ष्मी के जन्मदिवस पर वृद्धि और ध्रुव नामक योग बने हुए हैं जो स्थायी धन, सुख और ऐश्वर्य में वृद्धिकारक है। इस अवसर पर सर्वार्थसिद्धि योग भी बना हुआ है। ग्रहों और नक्षत्रों का यह संयोग बहुत ही शुभ है जिसमें धनलाभ संबंधी कोई भी काम करना शुभ फलदायी होगा।

यह भी जानें कि बिहार एवं बंगाल के लोग इस दिन को कोजागरा और कोजागरी लक्ष्मी पूजा के रूप में मनाते हैं। उधर पश्चिम बंगाल और उड़ीसा में इस दिन कुमारी कन्याएं प्रातः स्नान करके सूर्य और चन्द्रमा की पूजा करती हैं। माना जाता है कि इससे योग्य पति मिलता है।

सम्बंधित खबरें


राबड़ी ने बुलाई राजद की आपात बैठक

राष्ट्रीय जनता दल के इतिहास में संभवत: यह पहला मौका है जब किसी बड़े निर्णय के लिए राबड़ी देवी ने बैठक बुलाई हो और उस बैठक में पार्टी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव न हों और न ही उनके उत्तराधिकारी के तौर पर स्वीकारे जा चुके तेजस्वी यादव हों। जी हां, राबड़ी देवी ने बुधवार को राजद की आपात बैठक बुलाई, जिसके राजनीति के गलियारों में कई मायने निकाले जा रहे हैं। बता दें कि लालू और तेजस्वी फिलहाल दिल्ली में हैं। सीबीआई ने 5 एवं 6 अक्टूबर को उनसे पूछताछ के लिए समन जारी कर रखा है। सीबीआई ने इससे पहले भी दो बार समन जारी किया था, लेकिन पिता-पुत्र ने दोनों ही बार तिथियों को आगे बढ़ाने का अनुरोध किया।

बहरहाल, राबड़ी द्वारा बुलाई गई आपात बैठक में पार्टी के संगठन चुनाव को निर्धारित समय से 14 महीने पहले कराने का फैसला लिया गया। गौरतलब है कि राजद का संगठनात्मक चुनाव प्रत्येक तीन साल पर होता है और तय समय के मुताबिक इसे जनवरी 2019 में होना चाहिए था। लेकिन इस बात की प्रबल संभावना है कि इसी आसपास लोकसभा चुनाव भी हो जाएं। ऐसा होने पर नई कमिटियों को तैयारी के लिए पर्याप्त समय नहीं मिल पाएगा। यही कारण है कि पार्टी सभी मोर्चों पर स्वयं को समय रहते चुस्त-दुरुस्त कर लेना चाहती है।

राबड़ी की अध्यक्षता में हुई इस बैठक में तय किया गया कि 20 नवंबर को राष्ट्रीय परिषद की बैठक आयोजित की जाएगी। इसी दिन राष्ट्रीय अध्यक्ष का चुनाव भी होगा, जिसमें लालू प्रसाद यादव की फिर से ताजपोशी तय है। नए अध्यक्ष के चुनाव के बाद खुला अधिवेशन होगा।

बता दें कि राष्ट्रीय अध्यक्ष के चुनाव से पूर्व 23 अक्टूबर को प्रखंड अध्यक्षों का चुनाव, 30 अक्टूबर को जिला अध्यक्षों का चुनाव और 4 से से 7 नवंबर के बीच प्रदेश अध्यक्ष, राज्य कार्यकारिणी के सदस्य तथा राष्ट्रीय परिषद के सदस्यों का चुनाव होगा। इन सभी चुनावों से पहले सघन सदस्यता अभियान चलाया जाएगा, जिसकी शुरुआत गुरुवार से होगी।

यह भी जानें कि इन संगठनात्मक चुनावों के लिए पार्टी के वरिष्ठ नेता जगदानंद सिंह को राष्ट्रीय निर्वाचन पदाधिकारी बनाया गया है और प्रदेश प्रवक्ता चितरंजन गगन को राष्ट्रीय सहायक निर्वाचन पदाधिकारी की जिम्मेवारी दी गई है, जबकि प्रदेश में चुनाव की जिम्मेवारी तनवीर हसन की होगी।

 

सम्बंधित खबरें


2 अक्टूबर को गाँधीमय हुआ मधेपुरा

जहाँ एक ओर सबेरे से कई संगीत संस्थानों में गाँधी के भजन सुनाई देने लगे वहीँ दूसरी ओर कई भजन प्रेमियों के घर-आँगन में ‘वैष्णव जन तो तैने कहिए…….’ की धुन सुनाई देने लगी |

बता दें कि शहीद चुल्हाय मार्ग वाले जिला परिषद डाकबंगला के परिसर में अवस्थित गाँधी की प्रतिमा पर 9 बजते ही डीएम मो.सोहैल, एसपी विकास कुमार, जिला परिषद अध्यक्षा मंजू देवी, उपाध्यक्ष रघुनंदन दास सहित जिले के समाजसेवियों व गणमान्यों द्वारा पुष्पांजलि अर्पित की गई |

आगे 9:30 बजे सभी समाहरणालय पहुँचे जहाँ 1 वर्ष पूर्व वर्तमान डीएम के कार्यकाल में ही उनकी सोच के अनुरूप संगमरमर से बनी राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी की आदमकद प्रतिमा पर डीएम, एसपी सहित गणमान्यों द्वारा पुष्पांजलि अर्पित की गयी | सादे समारोह में स्काउट एंड गाइड के प्रशिक्षण आयुक्त जय कृष्ण यादव के निर्देशन में सर्वधर्म प्रार्थना का आयोजन किया गया | बाद में राज्य सरकार द्वारा बाल विवाह व दहेज के खिलाफ चलाये जा रहे अभियान के मद्देनजर डायनेमिक डीएम मो.सोहैल द्वारा शपथ ग्रहण कराया गया जिसमें एसपी विकास कुमार सहित अन्य पदाधिकारीगण व शहर के शिक्षाविद डॉ.भूपेन्द्र नारायण मधेपुरी सहित अन्य समाज सेवीगण भी मौजूद देखे गये |

Samajsevi Sahityakar Dr.Bhupendra Madhepuri paying tribute to Rastrapita Mahatma Gandhi on the occasion of his 148th Jayanti (2 October 2017) at Samaharnalaya Campus, Madhepura.
Samajsevi Sahityakar Dr.Bhupendra Madhepuri paying tribute to Rastrapita Mahatma Gandhi on the occasion of his 148th Jayanti (2 October 2017) at Samaharnalaya Campus, Madhepura.

यह भी बता दें कि 10:00 बजे से झल्लूबाबू सभागार में पुनः डीएम मो.सोहैल की अध्यक्षता में नीतीश सरकार द्वारा बाल विवाह एवं दहेज के लेन-देन के खिलाफ चर्चाऍ हुई और यही शपथ ग्रहण कि 18 वर्ष की लड़की और 21 वर्ष के लड़के से कम उम्र के रहने पर शादी नहीं होगी, दहेज़ का लेन-देन नहीं होगा |

बाद में “गाँधी रथ” को हरी झंडी दिखाकर रवाना करते हुए डीएम मो.सोहैल ने कहा कि सुदूर ग्रामीण इलाकों में भी यह रथ इन कुप्रथाओं के रोकथाम हेतु व्यापक प्रचार-प्रसार कर लोगों को जागरुक करेगी | डीएम ने कहा कि सभी प्रखंडों एवं आंगनबाड़ी केंन्द्रों पर यह कार्यक्रम हो रहा है |

Mukhya Vakta Dr.Madhepuri , Sagathan Prabhari Amar Choudhary, Dr.Gulhasan, Naresh Paswan along with JD(U) Party President Prof.Bijendra Narayan Yadav in Gandhi Jayanti at SNPM Law College, Madhepura.
Mukhya Vakta Dr.Madhepuri , Sangathan Prabhari Amar Choudhary, Dr.Gulhasan, Naresh Paswan along with JD(U) Party President Prof.Bijendra Narayan Yadav celebrating Gandhi Jayanti at SNPM Law College, Madhepura.

फिर दोपहर बाद 1:30 बजे से शिवनन्दन विधि महाविद्यालय सभागार में जद(यू) के जिलाध्यक्ष प्रो.विजेन्द्र नारायण यादव की अध्यक्षता में आयोजित गाँधी-शास्त्री जयन्ती में शहर के शिक्षाविद-समाजसेवी व मुख्यवक्ता डॉ.भूपेन्द्र नारायण मधेपुरी ने संगठन प्रभारी अमर चौधरी उर्फ़ भगवान चौधरी, पूर्व प्रमुख सियाशरण यादव, डॉ.गुलहसन, गुड्डी देवी, डॉ.नीलाकान्त, डॉ.नीरज एवं प्रखंड अध्यक्ष राज किशोर यादव, नरेश पासवान आदि अन्य सभी प्रखंडों के अध्यक्ष-सचिव आदि को सम्बोधित करते हुए कहा-

“समाज को बदलने में और बनाने में बहुत समय लगता है | यहाँ पर 1911ई. में समाज सुधारक-स्वतंत्रता सेनानी बाबू रास बिहारी लाल मंडल द्वारा दो दिवसीय महासम्मेलन किया गया था जिसमें नेपाल सहित भारत के 16000 प्रतिनिधियों ने भाग लिया था- और लड़कों की शादी की उम्र 5 वर्ष से बढ़ाकर 10 वर्ष करने में लोग मुँह फेरने लगे थे……|”

डॉ.मधेपुरी ने कहा- संवेदनशील नीतीश सरकार के बाल विवाह और दहेज बंदी को नशाबंदी की तरह जनसमर्थन मिलेगा ही मिलेगा तथा समाज को इस कोढ से मुक्ति मिलेगी ही मिलेगी ……| फिर हमलोग 2018 के 21 जनवरी को पूरे बिहार में मानव कड़ी बनायेंगे- गाँधी-शास्त्री की तस्वीर को साक्षी रखकर सबों ने यही शपथ ली………| कार्यक्रम शाम तक चला | सबों ने अपना-अपना विचार रखा | अन्त में प्रो.सुजित मेहता ने धन्यवाद ज्ञापित कर कार्यक्रम समाप्ति की घोषणा की |

सम्बंधित खबरें


बाहरी दशानन नहीं, अन्दर के रावण का दहन है जरूरी

प्रत्येक दशहरे में लोग शक्तिशालिनी माता दुर्गा से शक्ति लेकर 10 तरह के अवगुणों से मुक्ति पाने की मन्नतें मांगता है और उस पर विजय पाने की कोशिश करते हुए ‘विजयादशमी’ के रूप में सर्वाधिक उत्साहपूर्वक इस पर्व को मनाता है | तभी तो दशहरे के पर्व को बुराई पर अच्छाई की जीत का प्रतीक माना जाता है |

बता दें कि इस बार दशहरे की तिथि 30 सितंबर (शनिवार) को चौबीसो घंटे रहेगी- यानि 29 सितंबर के 12 बजे रात्रि से कुछ मिनट पूर्व से 30 सितंबर के 12:00 बजे रात से 1 घंटे बाद तक रहेगी | रात्रि में रावण-दहन किया जायगा | हालांकि रावण के दशो मुखड़े तो बाहर ही रहते हैं…… अब तो अच्छे लोग अपने अंदर के 10 से अधिक मुखौटों को जलाने में लग गये हैं |

पर्व-त्योहार चाहे किसी भी समुदाय का हो- वह तो आस्था का पर्व होता है, आत्मविश्वास का त्योहार होता है | जिन भक्तों व मुरीदों के अंदर जितनी गहरी आस्था होगी और आत्मविश्वास होगा उनकी मन्नतें उसी अनुरूप पूरी होती रहेंगी | जिस गांव या पंचायत के दोनों समुदाय (हिन्दू-मुस्लिम) के बीच जितनी एकता होगी उस गाँव, प्रखंड या पंचायत में उतनी ही समृद्धि, सद्भाव व शांति विराजमान रहेगी | बच्चे संस्कारवान होंगे | उक्त बातें शहर के प्रसिद्ध समाजसेवी शिक्षाविद डॉ.मधेपुरी ने कही |

यह भी जानिए कि यहाँ दुर्गा-पूजा मुहर्रम को लेकर शांति व सौहार्द जिस तरह कायम रहता रहा है कि आम लोग मधेपुरा जिले के अन्य प्रखंडों के साथ-साथ खासकर गम्हरिया और कुमारखंड प्रखंड के रहटा पंचायत के हिन्दू-मुसलमान एकता का मिसाल पेश करने से बाज नहीं आते | दोनों समुदाय की समितियों में दोनों समुदाय के लोगों का मेंबर होना तथा एक ही मैदान में दुर्गा पूजा का मेला और मुहर्रम का मेला शांतिपूर्वक संपन्न होना मधेपुरा जिले के डायनेमिक डीएम मो.सोहैल एवं उनकी टीम सहित एसपी विकास कुमार की सक्रियता, सदाशयता व सज्जनता को दर्शाता है |

जिले में इसी तरह शांति व सद्भाव बनाये रखने हेतु सभी सोशल एक्टिविस्ट, जनप्रतिनिधि, व्यापारी, पदाधिकारी एवं उच्चाधिकारी को मधेपुरा अबतक की ओर से कोटि-कोटि साधुवाद !!

सम्बंधित खबरें