Tag Archives: dr. madhepuri

मधेपुरा में भारतरत्न डॉ.कलाम की 87वीं जयन्ती मनी

मधेपुरा के तुलसी पब्लिक स्कूल में गाँधीयन मिसाइल मैन कहलाने वाले भारतरत्न डॉ.एपीजे अब्दुल कलाम की 87वीं जयन्ती समारोहपूर्वक मनाई गई | यह समारोह सर्वाधिक उत्साह, उमंग एवं सादगी के साथ शिक्षकों एवं छात्रों की उपस्थिति में मनाया गया |

सर्वप्रथम डॉ.कलाम की तस्वीर पर उद्घाटनकर्ता समाजसेवी डॉ.भूपेन्द्र नारायण मधेपुरी, मुख्य अतिथि श्यामल कुमार सुमित्र सहित शिक्षकों एवं छात्र-छात्राओं ने पुष्पांजलि की | फिर डॉ.कलाम के जीवनवृत्त पर विस्तार से प्रकाश डालते हुए डॉ.मधेपुरी ने संबोधन के अंत में बच्चों से यही कहा-

“जो कुछ करने का संकल्प लो उसे जुनून एवं आत्मविश्वास के साथ पूरा करो | आत्मविश्वास तुम्हारे जीवन में अद्भुत चमत्कार ला सकता है……… केवल उसे अपने मन-प्राणों में निरंतर उतारने की कोशिश में लगे रहो |”

Dr.Madhepuri with kids and teachers with full of Spirit during the Missileman Dr.APJ Abdul Kalam's 87th Happy Birthday celebration at Tulsi Public School Madhepura.
Dr.Madhepuri with kids and teachers with full of Spirit during the Missileman Dr.APJ Abdul Kalam’s 87th Happy Birthday celebration at Tulsi Public School Madhepura.

इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रुप में तुलसी पब्लिक स्कूल के निदेशक श्यामल कुमार सुमित्र ने कहा कि डॉ.कलाम दुनिया के पहले ऐसे राष्ट्रपति थे जिन्होंने राष्ट्रपति भवन में हो रहे अपने शपथ-ग्रहण समारोह में देश के सौ स्कूली बच्चे-बच्चियों को आमंत्रित किया था |

बता दें कि समारोह की अध्यक्षता कर रहे प्राचार्य डॉ.हरिनंदन प्रसाद यादव ने अपने संबोधन में डॉ.कलाम के अनुशासन प्रियता की चर्चा करते हुए स्कूल में उपस्थिति एवं अनुशासन को लेकर सर्वश्रेष्ठ छात्र के रूप में वर्ग-2 के मनदीप कुमार एवं छात्रा समूह में वर्ग 5 की आस्था कुमारी के नाम की घोषणा की | इन दोनों को उद्घाटनकर्ता डॉ.मधेपुरी के हाथों मोंमेंटो देकर पुरस्कृत किया गया |

यह भी जानिए कि “डॉ.कलाम के व्यक्तित्व एवं कृतित्व” विषय पर भाषण प्रतियोगिता का भी आयोजन किया गया था | शिक्षक द्वय वरुण कुमार वर्मा एवं नरेश कुमार के संरक्षण में लगभग एक दर्जन छात्र-छात्राओं यथा आस्था प्रिया, लक्ष्मी, निधि, छवि, आर्यन, प्रियांशु, अभिनव, नीरज…….. आदि ने हिन्दी व अंग्रेजी में भाषण दिया और तालियाँ भी बटोरी | पुरस्कार स्वरूप मिठाइयाँ व चाकलेट्स  का वितरण किया गया | समारोह को सफल बनाने में विभीषण कुमार, मनीषा कुमारी, माधुरी यादव, आशुतोष कुमार, आदित्य आदि की भूमिका महत्वपूर्ण रही | अंत में वरुण कुमार वर्मा द्वारा धन्यवाद ज्ञापन और अध्यक्ष के निर्देशानुसार कार्यक्रम समाप्ति की घोषणा की गयी |

सम्बंधित खबरें


मधेपुरा के लोहियावादियों ने मनाई डॉ.लोहिया की 51वीं पुण्यतिथि

मधेपुरा के शिवनन्दन प्रसाद मंडल विधि महाविद्यालय के सभागार में विश्व के महान समाजवादी चिंतक डॉ.राम मनोहर लोहिया की 51वीं पुण्यतिथि जद(यू) के बैनर तले काफी उत्साह व उमंग के साथ मनाई गई | यह आयोजन देर शाम तक जद(यू) जिलाध्यक्ष प्रो.बिजेन्द्र नारायण यादव एवं जिला महिला प्रकोष्ठ की अध्यक्षा श्रीमती मीना देवी की अध्यक्षता में संयुक्तरुप से गतिमान रहा |

बता दें कि जिले के सभी प्रखंडों से आई महिला सेल के सचिव व अध्यक्ष, विधि महाविद्यालय के कर्मियों सहित प्राचार्य प्रो.सत्यजीत यादव एवं जिले भर से आये लोहियावादियों ने डॉ.लोहिया के विशाल सिद्धांतवादी व्यक्तित्व की जमकर चर्चाएं की और हृदय से श्रद्धांजलि भी अर्पित की |

यह भी जानिए कि इस पुण्यतिथि समारोह के आरंभ में उद्घाटनकर्ता के रूप में पूर्व विधि मंत्री सह वर्तमान जनप्रिय विधायक नरेन्द्र नारायण यादव (आलमनगर), मुख्यवक्ता के रूप में समाजसेवी-शिक्षाविद डॉ.भूपेन्द्र नारायण मधेपुरी एवं जिला संगठन प्रभारी अमर कुमार चौधरी उर्फ़ भगवान चौधरी, नेत्री गुड्डी देवी, जिप सदस्या बुलबुल सिंह आदि सहित उपस्थित समस्त नर-नारियों द्वारा डॉ.लोहिया के तैल चित्र पर माल्यार्पण किया गया तथा पुष्पांजलि अर्पित की गई | साथ ही उपस्थित जनों को नीतीश सरकार के “बाल विवाह एवं दहेज” के विरुद्ध शपथ-ग्रहण भी कराया गया |

इस अवसर पर जहाँ उद्घाटनकर्ता नरेन्द्र नारायण यादव ने देर तक उद्गार व्यक्त करते हुए कहा कि डॉ.लोहिया राष्ट्रीय स्तर पर ही नहीं बल्कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी काले-गोरे के बीच की खाई को पाटने के लिए संघर्ष करते रहे वहीं मुख्य वक्ता डॉ.मधेपुरी ने विस्तार से लोहिया के समाजवाद की बारीकियों को मनीषी भूपेन्द्र नारायण मंडल को संदर्भित करते हुए विभिन्न उदाहरणों के साथ सबों को मंत्रमुग्ध कर देर तक बाँधे रखा | जहां संगठन प्रभारी भगवान चौधरी ने डॉ.लोहिया को स्पष्टवादिता, निर्भीकता एवं सीधे-सपाट तर्कपूर्ण विचारों का पुंज कहा वहीं व्यवसायिक प्रकोष्ठ के अध्यक्ष अशोक चौधरी एवं दलित  प्रकोष्ठ के अध्यक्ष नरेश पासवान ने बखूबी मंच संचालन किया और अंत में अल्पाहार के साथ धन्यवाद ज्ञापन करते हुए डॉ.नीलाकान्त ने समारोह के समाप्त होने की उद्घोषणा की |

सम्बंधित खबरें


2 अक्टूबर को गाँधीमय हुआ मधेपुरा

जहाँ एक ओर सबेरे से कई संगीत संस्थानों में गाँधी के भजन सुनाई देने लगे वहीँ दूसरी ओर कई भजन प्रेमियों के घर-आँगन में ‘वैष्णव जन तो तैने कहिए…….’ की धुन सुनाई देने लगी |

बता दें कि शहीद चुल्हाय मार्ग वाले जिला परिषद डाकबंगला के परिसर में अवस्थित गाँधी की प्रतिमा पर 9 बजते ही डीएम मो.सोहैल, एसपी विकास कुमार, जिला परिषद अध्यक्षा मंजू देवी, उपाध्यक्ष रघुनंदन दास सहित जिले के समाजसेवियों व गणमान्यों द्वारा पुष्पांजलि अर्पित की गई |

आगे 9:30 बजे सभी समाहरणालय पहुँचे जहाँ 1 वर्ष पूर्व वर्तमान डीएम के कार्यकाल में ही उनकी सोच के अनुरूप संगमरमर से बनी राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी की आदमकद प्रतिमा पर डीएम, एसपी सहित गणमान्यों द्वारा पुष्पांजलि अर्पित की गयी | सादे समारोह में स्काउट एंड गाइड के प्रशिक्षण आयुक्त जय कृष्ण यादव के निर्देशन में सर्वधर्म प्रार्थना का आयोजन किया गया | बाद में राज्य सरकार द्वारा बाल विवाह व दहेज के खिलाफ चलाये जा रहे अभियान के मद्देनजर डायनेमिक डीएम मो.सोहैल द्वारा शपथ ग्रहण कराया गया जिसमें एसपी विकास कुमार सहित अन्य पदाधिकारीगण व शहर के शिक्षाविद डॉ.भूपेन्द्र नारायण मधेपुरी सहित अन्य समाज सेवीगण भी मौजूद देखे गये |

Samajsevi Sahityakar Dr.Bhupendra Madhepuri paying tribute to Rastrapita Mahatma Gandhi on the occasion of his 148th Jayanti (2 October 2017) at Samaharnalaya Campus, Madhepura.
Samajsevi Sahityakar Dr.Bhupendra Madhepuri paying tribute to Rastrapita Mahatma Gandhi on the occasion of his 148th Jayanti (2 October 2017) at Samaharnalaya Campus, Madhepura.

यह भी बता दें कि 10:00 बजे से झल्लूबाबू सभागार में पुनः डीएम मो.सोहैल की अध्यक्षता में नीतीश सरकार द्वारा बाल विवाह एवं दहेज के लेन-देन के खिलाफ चर्चाऍ हुई और यही शपथ ग्रहण कि 18 वर्ष की लड़की और 21 वर्ष के लड़के से कम उम्र के रहने पर शादी नहीं होगी, दहेज़ का लेन-देन नहीं होगा |

बाद में “गाँधी रथ” को हरी झंडी दिखाकर रवाना करते हुए डीएम मो.सोहैल ने कहा कि सुदूर ग्रामीण इलाकों में भी यह रथ इन कुप्रथाओं के रोकथाम हेतु व्यापक प्रचार-प्रसार कर लोगों को जागरुक करेगी | डीएम ने कहा कि सभी प्रखंडों एवं आंगनबाड़ी केंन्द्रों पर यह कार्यक्रम हो रहा है |

Mukhya Vakta Dr.Madhepuri , Sagathan Prabhari Amar Choudhary, Dr.Gulhasan, Naresh Paswan along with JD(U) Party President Prof.Bijendra Narayan Yadav in Gandhi Jayanti at SNPM Law College, Madhepura.
Mukhya Vakta Dr.Madhepuri , Sangathan Prabhari Amar Choudhary, Dr.Gulhasan, Naresh Paswan along with JD(U) Party President Prof.Bijendra Narayan Yadav celebrating Gandhi Jayanti at SNPM Law College, Madhepura.

फिर दोपहर बाद 1:30 बजे से शिवनन्दन विधि महाविद्यालय सभागार में जद(यू) के जिलाध्यक्ष प्रो.विजेन्द्र नारायण यादव की अध्यक्षता में आयोजित गाँधी-शास्त्री जयन्ती में शहर के शिक्षाविद-समाजसेवी व मुख्यवक्ता डॉ.भूपेन्द्र नारायण मधेपुरी ने संगठन प्रभारी अमर चौधरी उर्फ़ भगवान चौधरी, पूर्व प्रमुख सियाशरण यादव, डॉ.गुलहसन, गुड्डी देवी, डॉ.नीलाकान्त, डॉ.नीरज एवं प्रखंड अध्यक्ष राज किशोर यादव, नरेश पासवान आदि अन्य सभी प्रखंडों के अध्यक्ष-सचिव आदि को सम्बोधित करते हुए कहा-

“समाज को बदलने में और बनाने में बहुत समय लगता है | यहाँ पर 1911ई. में समाज सुधारक-स्वतंत्रता सेनानी बाबू रास बिहारी लाल मंडल द्वारा दो दिवसीय महासम्मेलन किया गया था जिसमें नेपाल सहित भारत के 16000 प्रतिनिधियों ने भाग लिया था- और लड़कों की शादी की उम्र 5 वर्ष से बढ़ाकर 10 वर्ष करने में लोग मुँह फेरने लगे थे……|”

डॉ.मधेपुरी ने कहा- संवेदनशील नीतीश सरकार के बाल विवाह और दहेज बंदी को नशाबंदी की तरह जनसमर्थन मिलेगा ही मिलेगा तथा समाज को इस कोढ से मुक्ति मिलेगी ही मिलेगी ……| फिर हमलोग 2018 के 21 जनवरी को पूरे बिहार में मानव कड़ी बनायेंगे- गाँधी-शास्त्री की तस्वीर को साक्षी रखकर सबों ने यही शपथ ली………| कार्यक्रम शाम तक चला | सबों ने अपना-अपना विचार रखा | अन्त में प्रो.सुजित मेहता ने धन्यवाद ज्ञापित कर कार्यक्रम समाप्ति की घोषणा की |

सम्बंधित खबरें


डॉ.मधेपुरी ने स्काउट एण्ड गाइड के साथ मधेपुरा में स्वच्छ्ता अभियान का किया आगाज़ !

भारत स्वच्छ्ता मिशन कार्यक्रम के तहत भारत स्काउट एण्ड गाइड के मधेपुरा जिला प्रशिक्षण आयुक्त जय कृष्ण यादव ने विभिन्न विद्यालयों के लगभग सौ स्काउट छात्रों की कई टोलियाँ एक-एक नायक के साथ गठित की | दुर्गा पूजा एवं मुहर्रम के अवसर पर शहर के सभी चौक-चौराहों एवं सार्वजनिक स्थलों की सम्पूर्ण सफाई हेतु प्रशिक्षण आयुक्त जय कृष्ण यादव, सहयोगी स्काउट मास्टर रहमत अली एवं स्काउट की कई टोलियों की उपस्थिति में समाजसेवी डॉ.भूपेन्द्र नारायण मधेपुरी द्वारा शहर के बीच 117 वर्षों से निरन्तर होती चली आ रही बंगला स्कूल दुर्गा पूजा की समिति के अध्यक्ष प्रमोद अग्रवाल व सचिव त्रिदीप गांगुली उर्फ़ बुब्बुन की उपस्थिति में भारत स्वच्छता अभियान का आगाज़ किया गया और अपने संक्षिप्त सम्बोधन में डॉ.मधेपुरी ने उपस्थित जनों से यही कहा-

“पाण्डवों द्वारा आयोजित राजसूय यज्ञ की सफलता हेतु राजों-महाराजों के आतिथ्य-सत्कार का कार्य नहीं लेकर भगवान श्री कृष्ण ने अपने हिस्से में जूठी पत्तल उठाने तथा झाड़ू लगाकर चतुर्दिक स्वच्छता कायम करने का काम लिया था…………..!”

इस अवसर पर डॉ.मधेपुरी ने सभी टोलियों से कहा कि स्टेशन दुर्गा स्थान, बड़ी दुर्गा सहित कर्पूरी चौक, पूर्णिया गोला चौक (डॉ.लोहिया चौक), शहीद चुलहाय चौक, सुभाष चौक, शिवनंदन चौक, अस्पताल सहित मस्जिद चौक, भूपेन्द्र चौक, बी.पी.मंडल चौक, गाँधी पार्क, विश्वविद्यालय परिसर, श्रीकृष्ण मंदिर आदि स्थलों की सफाई मन से करना और अन्तर्मन में इस संकल्प को बार-बार दुहराते रहना व गुनगुनाते रहना-

“माँ कसम ! भारत को ना तो गन्दा करेंगे और ना किसी को गन्दा करने देंगे…….!!”

Hon'ble V.C. Dr.A.K. Roy, Educationist Dr.Bhupendra Madhepuri, S&G Ayukta Jaikrishna Yadav and others engaged in Swachhta Abhiyan at B.N. Mandal University Campus, Madhepura.
Hon’ble V.C. Dr.A.K. Roy, Educationist Dr.Bhupendra Madhepuri, S&G Ayukta Jaikrishna Yadav and others engaged in Swachhta Abhiyan at B.N. Mandal University Campus, Madhepura.

आगे चलते-चलते भू.ना. मंडल वि.वि. परिसर में स्काउट एण्ड गाइड को संबोधित करते हुए जहाँ वि.वि. की गन्दगी को साफ़ करने में लगे कुलपति डॉ.अवध किशोर राय ने स्वच्छता को देवत्व की संज्ञा देते हुए कहा कि प्रत्येक व्यक्ति को अपने शरीर, मन व आत्मा तीनों की स्वच्छता के साथ-साथ अपने घर-आँगन और आस-पास को भी स्वच्छ बनाने पर ध्यान देना चाहिए, वहीँ समाजसेवी डॉ.भूपेन्द्र मधेपुरी ने कहा कि भारत स्वच्छता अभियान की सफलता में समाज के अन्य सभी वर्गों के साथ-साथ शिक्षकों एवं छात्रों की सक्रिय भागीदारी तो चाहिए ही चाहिए |

इस अवसर पर अधिष्ठाता छात्र कल्याण डॉ.अनिल कान्त मिश्र, कुलानुशासक डॉ.अरविन्द कुमार, पीआरओ डॉ.सुधांशु शेखर, प्रशिक्षण आयुक्त जय कृष्ण यादव, स्काउट मास्टर मो.रहमत अली सहित स्काउट छात्र अमित, कुणाल…..आदि की पूरी टीम व शिक्षक सचिव परमेश्वरी प्रसाद यादव, निजी सहायक शम्भु नारायण यादव आदि उपस्थित थे |

सम्बंधित खबरें


मधेपुरा रेल कारखाना में केवल 10 दिन बाद से ही बनने लगेगा रेल इंजन

मधेपुरा के विद्युत रेल इंजन कारखाने के उप मुख्य अभियन्ता के.के.भार्गव ने मधेपुरा अबतक को बताया कि अक्टूबर से यहाँ इंजन बनाने का काम शुरू कर दिया जायगा | उन्होंने कहा कि पहले 5 विद्युत रेल इंजन तैयार करने के लिए फ्रांस से पुर्जे आ रहे हैं जो अक्टूबर के प्रथम सप्ताह के अन्दर ही सभी पहुंच जायेंगे | पहला रेल इंजन के लिए फ्रांस से पुर्जे भारत आ चुके हैं |

चर्चा के क्रम में उप मुख्य अभियन्ता श्री भार्गव ने कहा कि फरवरी तक पहला विद्युत रेल इंजन तैयार कर भारतीय रेल को सौंप दिया जायेगा | उन्होंने यह भी कहा कि पहला इंजन तैयार कर रेलवे को सौपने के बाद मधेपुरा रेल इंजन फैक्ट्री का विधिवत शुभारम्भ किया जायेगा | साथ ही यह भी जानकारी दी कि कारखाने के विधिवत उद्घाटन के लिए रेलवे द्वारा फ्रांस के राष्ट्रपति एवं पीएम नरेन्द्र मोदी को पत्र भेजा गया है |

श्री भार्गव ने खुलासा किया कि पीएम की महत्वाकांक्षी परियोजना होने के कारण प्रधानमंत्री कार्यालय द्वारा लगातार इसकी मॉनीटरिंग की जा रही है | सितम्बर में रेलवे बोर्ड के सदस्यों द्वारा प्रगति का जायजा भी लिया गया | इससे पूर्व एल्सटॉम के एमडी सचिन गोयल द्वारा भी कारखाने के निरीक्षण के दरमियान टाटा प्रोजेक्ट्स के अधिकारियों को ससमय कार्य पूरा करने का ठोस निर्देश दिया गया था |

इन बातों की जानकारी दिये जाने के बाद मधेपुरा अबतक द्वारा जब समाजसेवी डॉ.भूपेन्द्र नारायण यादव मधेपुरी से कुछ टिप्पणी करने को कहा गया तो उन्होंने कहा कि उच्च क्षमता के विद्युत रेल इंजन बनाने के लिए भारतीय रेल ने फ्रांस की प्रमुख ट्रांसपोर्ट कंपनी ‘एल्सटॉम’ से जो एकरारनामा किया इसके लिए ‘एल्सटॉम’ को तथा दोनों की संयुक्त साझेदारी में मधेपुरा में 800 विद्युत् रेल इंजन तैयार होगा जिसके लिए कारखाने के डिप्टी चीफ इंजीनियर के.के. भार्गव एवं डायनेमिक डीएम मो.सोहैल सहित उनकी टीमों को निष्ठा एवं समर्पण के साथ काम करने के लिए हृदय से कोटि-कोटि साधुवाद !!

सम्बंधित खबरें


आज के स्पेलिंग बी. के बच्चे ही कल विश्वविद्यालय के विद्यार्थी बनेंगे………..!

मधेपुरा में विगत कई वर्षों से अंग्रेजी एवं हिन्दी में स्पेलिंग बी चैंपियनशिप प्रतियोगिता का आयोजन किया जाता रहा है और जिले के सभी सरकारी व प्राइवेट स्कूली छात्र-छात्राओं सहित शिक्षकों एवं अभिभावकों का भरपूर सहयोग मिलता रहा है | आयोजन समिति को संरक्षक सह पूर्व परीक्षा नियंत्रक व प्रखर समाजसेवी डॉ.भूपेन्द्र मधेपुरी सहित प्राचार्य द्वय डॉ.विश्वनाथ विवेका एवं डॉ.के.पी. यादव का संपूर्ण सहयोग मिलता रहा है |

बता दें कि गिरिजा कपिलदेव इंटर कॉलेज में आयोजित पुरस्कार सम्मान समारोह में सचिव सावंत कुमार रवि ने सर्वप्रथम प्रतियोगिता से संबंधित जानकारी देते हुए अतिथियों का स्वागत किया |

The Patron of Spelling Bee Championship Dr.Bhupendra Madhepuri along with Pro.VC Farookh Ali , DSW Dr.AK Mishra , PRO Dr.Sudhanshu Shekhar , Pr.Sanjeeta Yadav , Er.BK Munna and others conferring the Paramount Honour to Sana Yadav.
The Patron of Spelling Bee Championship Dr.Bhupendra Madhepuri along with Pro.VC Farookh Ali , DSW Dr.AK Mishra , PRO Dr.Sudhanshu Shekhar , Pr.Sangeeta Yadav , Er.BK Munna and others conferring the Paramount Honour to Sana Yadav.

इस अवसर पर भूपेन्द्र नारायण मंडल विश्वविद्यालय के प्रतिकुलपति डॉ.फारुख अली ने अपने संबोधन में यही कहा कि बच्चे शिक्षा की बुनियाद हैं और मजबूत बुनियाद पर उच्च शिक्षा की भव्य इमारत खड़ी की जा सकती है | उन्होंने अपने अनुभवों को विस्तार से बताते हुए कहा कि बचपन अनमोल है, वह लौटकर आता नहीं………अतः बचपन का सदुपयोग करें……. सतत प्रयास करते रहें…….. तो सफलता मिलेगी ही मिलेगी |

संरक्षक एवं समाजसेवी डॉ.भूपेन्द्र नारायण मधेपुरी ने कहा कि बच्चे ही नहीं शिक्षक भी डॉ.एपीजे अब्दुल कलाम को अपना आदर्श बनाएं……. तभी शिक्षकों का सम्मान बढ़ेगा और शिक्षा को सर्वोच्च प्राथमिकता मिलेगी | डॉ.मधेपुरी ने स्पेलिंग बी चैंपियनशिप के सफल छात्रों को जीवन में उत्तरोत्तर आगे बढ़ने के टिप्स देते हुए अंत में यही कहा- सूरज की तरह चमकने के लिए सूरज की तरह जलना पड़ता है……|

मौके पर मंडल विश्वविद्यालय के डीएसडब्ल्यू डॉ.अनिल कान्त मिश्र, पीआरओ डॉ.सुधांशु शेखर, प्रो.रीता कुमारी, ई.बलवंत कुमार मुन्ना, प्राचार्या संगीता यादव आदि सहित संरक्षक डॉ.मधेपुरी व प्रतिकुलपति डॉ.फारुख अली द्वारा मोमेंटो-सर्टिफिकेट देकर सफल प्रतिभागियों- खुशी गुप्ता, अन्नू प्रिया, हर्षराज, अनिषा, सिद्धांत, जिंदगी, अमृत, आस्था, अंजलि, आदित्य आदि सैकड़ों छात्र-छात्राओं एवं बेहतरीन शिक्षकों तथा मीडियाजनों को भी सम्मानित किया गया |

अंत में स्पेलिंग बी का सर्वश्रेष्ठ पुरस्कार छात्रा सना यादव को देते हुए उद्घाटनकर्ता एवं संरक्षक द्वारा स्पेलिंग चैंपियन 2 प्रतिभागियों को उत्साहवर्धन स्वरुप नगद राशि भी दी गई | सोनी राज, अमित अंशु ने धन्यवाद ज्ञापित किया |

सम्बंधित खबरें


बगैर दृढ़ संकल्प के हिन्दी राष्ट्रभाषा नहीं बन पायेगी………!

मधेपुरा में 14 सितम्बर का दिन हिन्दी को समर्पित रहा | जहाँ एक ओर जिला मुख्यालय के समाहरणालय सभागार में डीएम मो.सोहैल (IAS) की अध्यक्षता में और बीएन मंडल विश्वविद्यालय के नये परिसर में कुलपति डॉ.अवध किशोर राय की अध्यक्षता में राष्ट्रीय हिन्दी दिवस मनाया गया वहीं दूसरी ओर भारतीय जन लेखक संघ के डॉ.मधेपुरी मार्ग स्थित केन्द्रीय कार्यालय में डॉ.अरुण कुमार साह की अध्यक्षता में हिन्दी दिवस के अवसर पर हिन्दी के उन्नयन के साथ-साथ पत्रकारिता जगत की गौरी लंकेश को श्रद्धांजलि भी अर्पित की गयी | इसके अलावे नेहरु युवा केन्द्र के साथ-साथ सदर बीआरसी में बीईओ जनार्दन प्रसाद निराला की अध्यक्षता में बच्चों ने भाषण प्रतियोगिता में भाग लेकर हिन्दी दिवस के महत्व पर जमकर प्रकाश डाला |

समाहरणालय सभागार में एसपी, सीएस, एडीएम एवं अन्य अधिकारियों, कर्मचारियों एवं गणमान्य जनसेवियों डॉ.भूपेंन्द्र मधेपुरी व प्रो.श्यामल किशोर यादव आदि को संबोधित करते हुए डीएम मो.सोहैल ने कहा-

“हिन्दी गंगा जैसी नदी है जिसमें हर नदी का जल समाहित है और गंगा हर नदी से जुड़ी भी है……. ठीक उसी प्रकार सभी भाषा में हिन्दी समाहित है…….. यदि हिन्दी नहीं होती तो भारत एक नहीं होता…..|”

इस अवसर पर एसपी विकास कुमार ने कहा कि पुलिस कार्यालयों में केस डायरी से लेकर न्यायालय से पत्राचार आदि सभी कार्यों में प्राय: हिन्दी के प्रयोग को प्राथमिकता दी जाती है | डॉ.गदाधर पाण्डेय सीएस एवं प्रो.श्यामल किशोर यादव ने भी हिन्दी के उन्नयन हेतु उद्गार व्यक्त किया |

इसी क्रम में समाजसेवी साहित्यकार डॉ.भूपेन्द्र मधेपुरी ने विस्तार से कमाल पाशा तुर्क से लेकर डॉ.एपीजे अब्दुल कलाम की चर्चाएं करते हुए कहा कि इन लोगों ने अपनी संकल्प शक्तियों का ऐसा मिसाल दुनिया को दिया जिस रास्ते पर यदि हम भारतवासी चलें तो हिन्दी को राजभाषा से राष्ट्रभाषा का गौरव पाने में अधिक देर नहीं लगेगी बशर्ते कि हम भारतीयों को अंग्रेजी के प्रति बढ़ रहे मोह को भंग करना होगा |

और अंत में डॉ.मधेपुरी ने समाजवादी मनीषी भूपेन्द्र नारायण मंडल द्वारा साठ के दशक में भारतीय संसद में हिन्दी के लिए जो कुछ कहा गया था उसे संदेश के रूप में सुनाया-

“…………. अध्यक्ष महोदय ! मैं हिन्दी के लिए पागल नहीं हूँ, परन्तु भारत में अंग्रेजी को बनाये रखने की कोशिश भारतीय जनक्रान्ति के साथ विश्वासघात है |”

 

सम्बंधित खबरें


क्या सभी डीएम के लिए ऐसा ही होता है- रविवार ?

मधेपुरा के डायनेमिक डीएम मो.सोहैल (IAS) जहाँ एक ओर स्वतंत्रता सेनानियों एवं उनके परिजनों के लिए सर्वाधिक संवेदनशील रहे हैं और हाल ही में कई प्रखंडों के बाढ़ पीड़ितों के लिए 24 घंटे में कोलकाता से प्लेन द्वारा प्लास्टिक व त्रिपाल आदि मंगाकर टेंट के अंदर ही माताओं एवं बहनों के लिए चुड़ी-सिन्दुर से लेकर टी.वी. तक की व्यवस्था करने में रात-रात भर जगे रहे हैं, वहीं दूसरी ओर जिले को अपना घर और जिलेवासियों को पारिवारिक सदस्य माननेवाले डीएम मो.सोहैल द्वारा यदि अकारण सामाजिक सौहार्द बिगाड़ने वालों के लिए नारियल की तरह कठोर बनकर जिले के अन्दर शांतिपूर्ण ढंग से चल रही सामाजिक सौहार्द की गाड़ी को बेपटरी होने से बचाने में 2-4 निर्दोष फूलों की पंखुड़ियाँ झड़ भी गई हों तो उसे अभिभावकों, सामाजिक कार्यकर्ताओं, जनप्रतिनिधियों एवं बुद्धिजीवियों व व्यापारी भाइयों द्वारा उसी तरह स्वीकारना लाजमी होगा-

जैसे नदी में स्नान करने के बाद किसी वृक्ष से सटकर सोये हुए व्यक्ति की पीठ पर चढ़ रही पंक्तिबद्ध चीटियों की अगली चीटीं गर्दन के पास पहुँचकर, ऊपर जाने का सुगम रास्ता नहीं मिलने पर, अकारण काट लेती है और वह व्यक्ति जगते ही तुरंत पीठ पर उल्टे हाथ चलाकर दर्जनों निर्दोष चीटियों को मौत के घाट उतार देता है………..| सोचिये तो सही ! काटने वाली चींटी तो बच जाती है, सुरक्षित रहकर घने बालों में छिप जाती है…….. सभी निर्दोष चीटियाँ ही मारी चली जाती हैं |

ऐसे ही संकट कालीन स्थिति में कुछ दिन कबल बिहारीगंज और फिलहाल मुरलीगंज में सामाजिक सौहार्द कायम रखने के लिए डीएम मो.सोहैल एवं एसपी बिकास कुमार की पूरी टीम द्वारा उठाये गये कदम को सराहनीय कहकर सबों को स्वीकारना चाहिए……..| भला क्यों नहीं, सामाजिक शांति एवं सौहार्द को बिगाड़नेवाले दिशाहीन विस्फोट को रोकने में डीएम मो.सोहैल ने अपनी टीम को दिन-रात सोने नहीं दिया…….. सभी जूझते रहे…..  वरना जानवरों के……. जगह आज लोगों की………  होती |

बाप-बेटे और गदहे की कहानी तो हम सभी जानते ही हैं | किसी भी स्थिति में लोगों ने उनके कृत्यों को सही नहीं कहा……. और सही होता क्या है ? यह भी कोई नहीं बताया……… !

सही में डीएम मो.सोहैल है क्या चीज……….. यह तो जानने की कोशिश करें हम ! आना-जाना तो हर किसी का लगा ही रहता है……..!

सोचिए ! मुरलीगंज की स्थिति ज्यों ही ठीक होती नजर आई कि 10 सितम्बर (रविवार) को ही दिनभर केन्द्रीय विद्यालय, मोटर व्हीकल ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट, जवाहर नवोदय विद्यालय हेतु स्टेडियम और जिले के किसानों के लिए कोल्ड स्टोरेज के वास्ते जमीन की तलाश में डीसीएलआर रविशंकर शर्मा, अंचलाधिकारी नवीन भूषण एवं शिक्षा विभाग के पदाधिकारियों के साथ केशव कन्या उच्च विद्यालय और कन्या मध्य विद्यालय की चक्कर लगाते रहे डीएम मो.सोहैल | उन्होंने तय किया कि अस्थायी रुप से केन्द्रीय विद्यालय का शुभारंभ केशव कन्या उच्च विद्यालय में तथा स्थायीरूप से कन्या मध्य विद्यालय परिसर की भूमि को चयनित किया गया |

Dynamic DM Md.Sohail (IAS) discussing with Samajsevi Dr.Bhupendra Madhepuri regarding land for Navoday Stadium , Vivah Bhawan , Yoga Bhawan & Cold Storage for farmers in presence of L.R.D.C. Ravi Shankar Sharma and others at Ram Janki Thakurbari Campus Sukhasan , Madhepura.
Dynamic DM Md.Sohail (IAS) discussing with Samajsevi Dr.Bhupendra Madhepuri regarding land for Navoday Stadium , Vivah Bhawan , Yoga Bhawan & Cold Storage for the farmers in presence of L.R.D.C. Ravi Shankar Sharma and others at Ram Janki Thakurbadi Campus Sukhasan , Madhepura.

मधेपुरा के बाद उमस भरी गर्मी में काफिले के साथ निकल पड़े डीएम मो.सोहैल और पहुंच गये जवाहर नवोदय विद्यालय सुखासन जहाँ के राम जानकी ठाकुरबाड़ी में, पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार, उन्हें मिल गये समाजसेवी डॉ.भूपेन्द्र मधेपुरी | प्रखर स्वतंत्रता सेनानी एवं नवोदय विद्यालय के भूमि दाता कमलेश्वरी प्रसाद मंडल के पौत्र पूर्व मुखिया जनार्दन प्रसाद यादव, उपेन्द्र प्रसाद यादव व अन्य गणमान्य भी मौजूद थे | डीएम ने विवाह भवन, योग भवन, नवोदय छात्रों के लिए स्टेडियम…….. आदि निर्माण हेतु जमीन की चर्चा करने के दरमियान बताया कि मोटर व्हीकल ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट हेतु गम्हरिया प्रखंड में जमीन मिली है |

डॉ.मधेपुरी ने कहा कि- “डायनेमिक डीएम मो.सोहैल ने ‘आराम हराम है’ के तर्ज पर भीषण उमस भरी गर्मी की परवाह किये बगैर 10:00 बजे पूर्वाहन से 3:00 बजे अपराहन तक पूरी टीम के साथ मधेपुरा, सिंघेश्वर और गम्हरिया की चक्कर लगाते रहे प्रखंड बार……….. क्या सभी डी.एम. के लिए आपके डीएम जैसा ही होता है- रविवार !!”

सम्बंधित खबरें


मधेपुरा में अन्तर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस पर कार्यक्रमों की धूम………!

मधेपुरा जिला लोक शिक्षा समिति के बैनर तले जिला कार्यक्रम पदाधिकारी (साक्षरता) के निदेशानुसार प्रखंड मुख्यालय से जिला मुख्यालय तक स्कूली बच्चों के साथ-साथ प्रेरक, स्वयं सेवक, तालीमी मरकज आदि ने प्रत्येक प्रखंड में प्रभात फेरी निकाली तथा प्रखंड प्रमुखों द्वारा साक्षरता झंडा फहराया गया | कहीं-कहीं तो स्वच्छता मिशन के बाबत स्कूली बच्चे-बच्चियों के बीच वाद-विवाद प्रतियोगिताएं भी आयोजित की गई तथा पारितोषिक देकर प्रोत्साहित भी किया गया |

यह भी बता दें कि जिला मुख्यालय मधेपुरा में भी इस अवसर पर कई कार्यक्रम आयोजित किये गये | कार्यक्रम के प्रथम चरण में बी.एन. मंडल स्टेडियम से केशव कन्या उच्च विद्यालय तक गाजे-बाजे के साथ साक्षरता मार्च निकाला गया तथा निरक्षरता दूर करने के नारे लगाये गये |

 Educationist Dr.Bhupendra Madhepuri addressing the highly educated gentlemen and Shaksharta Karmi on the occasion of International Literacy Day (8th September) at Keshew Kanya High School, Madhepura.
Educationist Dr.Bhupendra Madhepuri addressing the highly educated gentlemen and Shakshartakarmi on the occasion of International Literacy Day (8th September) at Keshew Kanya High School, Madhepura.

राजकीयकृत केशव कन्या उच्च विद्यालय में आयोजित सेमिनार को संबोधित किया डीपीओ गिरीश कुमार, प्रो.सच्चिदानंद, डॉ.भूपेन्द्र मधेपुरी, प्रो.श्यामल किशोर यादव, प्रो.सचिंद्र आदि ने |

बता दें कि जहाँ आरम्भ से ही साक्षरता में लगे प्रो.सच्चिदानंद एवं प्रो.श्यामल किशोर ने जिला साक्षरता को लक्ष्य से काफी पीछे बताया वहीं जिला परिषद के उपाध्यक्ष रघुनंदन दास एवं डीपीओ गिरीश कुमार ने कहा कि समाज तभी समृद्ध होगा जब अशिक्षा से मुक्ति मिलेगी और समाज अपने अधिकार के लिए जागृत होगा |

समाजसेवी-साहित्यकार डॉ.भूपेन्द्र मधेपुरी ने विस्तार से शिक्षा के अभाव में फैल रही सामाजिक भ्रांतियों एवं प्रतिदिन जन्म ले रहे नये-नये अंधविश्वासों को उकेरते हुए यही कहा कि हमें व्यक्तिगत, सामुदायिक एवं सामाजिक रुप से साक्षरता के महत्व को गहराई से समझना होगा |

डॉ.मधेपुरी ने आधुनिक बिहार के निर्माता एवं बिहार के प्रथम विधि मंत्री शिवनन्दन प्रसाद मंडल की पुस्तक “Free & Compulsory Primary Education” की चर्चा करते हुए कहा कि भारतीय संविधान के 96वाँ संशोधन में हमें इसी पुस्तक के कारण शिक्षा का मौलिक अधिकार प्राप्त हुआ जिसके Article -21  में यह अंकित किया गया कि हर प्रदेश के  6 से 14 वर्ष की आयु के सभी बच्चों को “मुफ्त एवं अनिवार्य शिक्षा” का प्रावधान होगा |

Samajsevi Dr.Bhupendra Madhepuri conferring certificate & momento to the best performer Shakshartakarmi .
Samajsevi Dr.Bhupendra Madhepuri conferring certificate & momento to the best performer Shakshartakarmi .

कार्यक्रम के संचालन और सांस्कृतिक परिचालन के माहिर मुरलीधर द्वारा बेहतर करने वाले साक्षरता कर्मियों को डॉ.मधेपुरी सहित अन्य अतिथियों द्वारा मोमेंटो एवं सर्टिफिकेट प्रदान कराया गया | अंत में धन्यवाद ज्ञापित किया ज्ञानेश्वर शर्मा ने और कार्यक्रम समाप्ति की घोषणा की गई |

सम्बंधित खबरें


मधेपुरा के शैक्षणिक संस्थानों में हर्षोल्लास के साथ मना शिक्षक दिवस  

बी.पी. मंडल इंजीनियरिंग कॉलेज मधेपुरा हो या शिवनन्दन प्रसाद मंडल इंटर स्तरीय उच्च विद्यालय या फिर बी.एन. मंडल विश्वविद्यालय के संबद्ध एवं अंगीभूत कॉलेज ही क्यों न हो- यहाँ तक कि सरकारी एवं गैर सरकारी विद्यालयों में भी रही शिक्षक दिवस की धूम | कहीं छात्र-छात्राओं द्वारा केक काटते तो कहीं भारतरत्न डॉ.सर्वपल्ली राधाकृष्णन के चित्र पर माल्यार्पण, पुष्पांजलि एवं श्रद्धांजलि करते देखे गये………| कहीं निबंध लेखन प्रतियोगिता का आयोजन तो कहीं किया गया छात्र-छात्राओं के बीच चित्रकारी या भाषण !! कुल मिलाकर सम्पूर्ण जिले में धूमधाम से छात्र-शिक्षकों एवं अभिभावकों द्वारा “शिक्षक दिवस” मनाया गया |

बता दें कि स्थानीय एस.एन.पी.एम. इंटरस्तरीय उच्च विद्यालय में ‘शिक्षक दिवस’ के साथ-साथ प्रधानाचार्य डॉ.निरंजन कुमार की विदाई का कार्यक्रम भी हुआ | 12:00 बजे दिन से 7:00 बजे संध्या तक चले विभिन्न कार्यक्रमों में भारी संख्या में छात्र-छात्राओं, गणमान्यों एवं अभिभावकों की उपस्थिति रही | स्कूल के संगीत शिक्षकद्वय नारायण और रजनी के मधुर संगीत के साथ-साथ मिनिरल वाटर और कोल्ड ड्रिंक्स की दौर हमेशा दर्शकों को तरोताजा बनाये रखा |

On the occasion of Teacher's Day, the Outgoing Principal Dr.Niranjan Kumar along with his wife Mrs.Nirmala Rani and Udhghatankarta Dr.Bhupendra Madhepuri at SNPM+2 School Madhepura.
On the occasion of Teacher’s Day, the Outgoing Principal Dr.Niranjan Kumar along with his wife Mrs.Nirmala Rani and Udhghatankarta Dr.Bhupendra Madhepuri at SNPM+2 School Madhepura.

यह भी बता दें कि भारतरत्न डॉ.राधाकृष्णन के जन्मोत्सव पर आयोजित शिक्षक दिवस समारोह के अवसर पर जहाँ बी.पी.मंडल इंजीनियरिंग कॉलेज के प्राचार्य डॉ.मनोरंजन झा, डीईओ  उग्रेश प्रसाद मंडल, एमएलटी कॉलेज सहरसा के प्राचार्य डॉ. के.पी. यादव, टीपी कॉलेज के पूर्व प्राचार्य डॉ.सुरेश प्रसाद यादव, डीपीओ माध्यमिक नारद प्रसाद द्विवेदी, डीपीओ सर्वशिक्षा गिरीश प्रसाद एवं राज्य कार्यकारिणी के सदस्य राजेंद्र प्रसाद यादव आदि ने विस्तार से समाज और देश के लिए कर्तव्यनिष्ठ शिक्षकों, लगनशील छात्र एवं जागरुक अभिभावकों के मजबूत इरादों पर बल दिया वहीं जिला माध्यमिक संघ के अध्यक्ष कृष्ण कुमार, पूर्व प्राचार्य वीरेंद्र प्रसाद यादव, शिक्षक आलोक कुमार, पूर्व प्रधानाध्यापक द्वय सत्येन्द्र कुमार, डॉ.सुरेश कुमार भूषण, एच.एम. यकिन्द्र कुमार मंडल, पूर्व प्राचार्य कमलेश्वरी प्रसाद बैजनाथपूरी, केशव कन्या की प्राचार्या विभा कुमारी, रासबिहारी उच्च विद्यालय की प्राचार्या रंजना झा सहित शिक्षक द्वय डॉ.संतोष कुमार व रमेश कुमार, डॉ.विजेंद्र कुमार, डॉ.नीलाकान्त, प्रो.बिजेंद्र नारायण यादव (जदयू अध्यक्ष), प्रधान जी आदि ने शिक्षक के लिए शिक्षा को ही महत्वपूर्ण बताते हुए अपने अनुभवों एवं उदाहरणों को शामिल करते हुए विस्तार से यही कहा कि बेहतरीन गुरु यानि अच्छा शिक्षक वही है जो जीवन पर्यंत विद्यार्थी बना रहता है, वे केवल किताबों से ही नहीं बल्कि अपने विद्यार्थियों से भी बहुत कुछ सीखता रहता है |

समारोह की अध्यक्षता एवं मंच संचालन करते हुए वर्तमान प्राचार्य मो.शकील अहमद ने समाजसेवी साहित्यकार डॉ.भूपेन्द्र मधेपुरी को उद्घाटनकर्ता, मुख्यवक्ता एवं कर्ताधर्ता बताते हुए श्रोताओं को धैर्य से सुनने का अनुरोध किया और कहा कि डॉ.मधेपुरी सरीखे विज्ञानवेत्ता को साहित्यकार से बढ़कर इतिहासकार कहना ही बेहतर होगा……|

बता दूँ कि डॉ.मधेपुरी ने अपने संबोधन में यही कहा कि आज संपूर्ण देश में शिक्षकों को सम्मानित किया जा रहा है | राष्ट्रपति भवन में महामहिम राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद द्वारा बिहार के 8 शिक्षकों को, पटना के एस.के. मेमोरियल हॉल में सीएम, डिप्टी सीएम एवं शिक्षा मंत्री द्वारा बिहार के 14 शिक्षकों को और मधेपुरा के एस.एन.पी.एम.  स्कूल में निवर्तमान प्राचार्य डॉ.निरंजन सहित उनकी अर्धांगिनी श्रीमती निर्मला रानी को हम सभी सम्मानित कर रहे हैं |

डॉ.मधेपुरी ने बच्चों से यही कहा कि जहां भारत में शिक्षक दिवस महामहिम डॉ.सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जन्मदिन (5 सितंबर) को मनाया जाता है वहीं अंतर्राष्ट्रीय शिक्षक दिवस 5 अक्टूबर को | भिन्न-भिन्न देशों में भिन्न-भिन्न तिथियों को शिक्षक दिवस मनाये जाते हैं | कुछ देशों में अवकाश के दिन तो कुछ में कामकाज के दिन | रूस में अक्टूबर के प्रथम रविवार को तो अमेरिका में मई के प्रथम मंगलवार को | कई देश तो शिक्षक दिवस मनाने की इन तिथियों को बदल भी लेते हैं………|

गुरु की महिमा का बखान करते हुए देर तक डॉ.मधेपुरी ने डॉ.राजेन्द्र प्रसाद, डॉ.भीमराव अम्बेडकर, डॉ.जाकिर हुसैन, डॉ.एपीजे अब्दुल कलाम आदि को उद्घृत करते हुए कहा कि जब डॉ.कलाम से उनकी पहली मुलाकात हुई थी तो महामहिम के पद पर आसीन मिसाइल मैन डॉ.कलाम उठ कर खड़े हो गये थे और बैठने हेतु अनुरोध करने पर उन्होंने डॉ.मधेपुरी से यही कहा था- “मैं…… आपके लिए खड़ा नहीं हूं…… बल्कि एक शिक्षक के सम्मान में खड़ा हुआ हूँ जो राष्ट्र निर्माता होता है……|”

अंत में निवर्तमान प्राचार्य डॉ.निरंजन कुमार ने डॉ.मधेपुरी के सामने जीवन के बचे हुए वर्षों को शिक्षक के रूप में बिताने का संकल्प दोहराया और आगे समाज के उन्नयन के लिए समस्त सकारात्मक सोच वाले योग-प्रणायाम को अमलीजामा पहनाने के लिए अपनी धर्मपत्नी श्रीमती निर्मला रानी के साथ मिलकर काम करने का संकल्प लिया |

कार्यक्रम के समापन का उद्घोष छात्रों, शिक्षकों एवं अभिभावकों के सम्मिलित सहभोज के बाद ही प्राचार्य  सह अध्यक्ष मो.शकील अहमद द्वारा किया गया |

सम्बंधित खबरें