Tag Archives: dr. madhepuri

सिंहेश्वर मेला को राजकीय मेला बनाने को संकल्पित दिखे डी.एम. मो.सोहैल

मधेपुरा; कोसी प्रमंडल के डी.आई.जी. चंद्रिका प्रसाद द्वारा डी.एम. मो.सोहैल, एस.पी. विकास कुमार, समाजसेवी डॉ. भूपेन्द्र मधेपुरी, मनीष सर्राफ, एस.डी.एम. संजय कुमार निराला, सदर डी.एस.पी, हरि प्रसाद टेकरीबाल आदि की उपस्थिति में पंडा-पंडितों द्वारा मंत्रोच्चारोप्रांत ‘धन्यवाद’ गेट पर ‘गार्ड ऑफ आनर’ लेने के बाद रीबन काटकर मेला का उद्घाटन किया गया | स्काउट गाइड के बच्चे-बच्चियों के साथ आयुक्त जयकृष्ण यादव की अगुवाई में मेला मंच पर आयोजित समारोह की ओर अग्रसर होते रहे सभी अतिथिगण………|

DIG, DM, Dr. Madhepuri, SP, DDC, SDM inaugurating the Mela of Singheshwar.
DIG, DM, Dr. Madhepuri, SP, DDC, SDM inaugurating the Mela of Singheshwar.

मेला मंच पर दीप प्रज्जवलित करने के बाद अतिथियों का स्वागत करते हुए सिंहेश्वर मंदिर न्यास समिति के सदस्य डॉ.भूपेन्द्र मधेपुरी ने यही उद्गार व्यक्त किया- परमात्मा शिव के ‘दिव्य अवतरण’ की रात्रि ही तो है- शिवरात्रि | यह महापर्व भगवान शिव के निराकार से साकार रूप में आने की मंगल सूचना है | शिव के आभामंडल में करोड़ों देवगण समा जाते हैं इसलिए इन्हें देवों के देव ‘महादेव’ कहा जाता है | यही कारण है कि भारतरत्न डॉ.कलाम से लेकर मधेपुरा के डायनेमिक डी.एम. मो. सोहैल तक शिव-पार्वती की जयकारा करते देखे गये | डॉ.मधेपुरी ने मेले में स्वच्छता एवं सुरक्षा कायम रखने के लिए पब्लिक एवं पुलिस की सजगता पर बल दिया |

Audience attending the inaugural ceremony of Singheshwar Mela.
Audience attending the inaugural ceremony of Singheshwar Mela.

उद्घाटन भाषण में डी.आई.जी. चंद्रिका प्रसाद ने कहा कि सिंहेश्वर स्थान बिहार का देवघर है | डी.एम. मो.सोहैल ने बाबा का जयकारा लगाने के बाद कहा कि सिंहेश्वर मेला को राजकीय मेला बनाने के लिए तैयारियाँ शुरू कर दी गयी है | डी.डी.सी. मिथिलेश कुमार एवं एस.डी.एम. संजय कुमार निराला ने कहा कि अगले वर्ष मेला में किसी तरह की कमी नहीं रहेगी |

From L to R - DIG Chandrika Prasad, Dr. Madhepuri, SP Vikas Kumar, DM Md. Sohail, SDM Sanjay Kumar Nirala enjoying coconut water in Mela campus after inauguration of Coconut Stall.
From L to R – DIG Chandrika Prasad, Dr. Madhepuri, SP Vikas Kumar, DM Md. Sohail, SDM Sanjay Kumar Nirala enjoying coconut water in Mela campus after inauguration of Coconut Stall.

इस मेला उद्घाटन समारोह की अध्यक्षता मेला समिति के अध्यक्ष डी.एम. मो.सोहैल ने की | मंच संचालन स्काऊट गाइड के आयुक्त जयकृष्ण यादव ने तथा धन्यवाद ज्ञापन एस.डी.एम. संजय कुमार निराला ने |

लगे हाथ केन्द्र सरकार, बिहार सरकार एवं अनेकानेक एन.जी.ओ. द्वारा लगाये गये प्रदर्शनी एवं स्टालों- बच्चों के टीकाकरण, गर्भवती महिला की देखरेख, आपदा प्रबन्धन, कृषि प्रदर्शनी, नारियल बोर्ड प्रदर्शनी….. आदि का उद्घाटन कहीं डी.आई.जी. तो कहीं डी.एम. या फिर कहीं एस.पी. द्वारा किया जाता रहा |

शाम में शिव-विवाह में सम्मिलित बारातियों का नजारा दर्शनीय रहा | चतुर्दिक हर्षोल्लास के साथ वासन्ती वातावरण अबीर-गुलाल से लाल हो गया |

सम्बंधित खबरें


धबौली ने दी प्रतिभावान खिलाड़ी समीर को सच्ची श्रद्धांजलि

मधेपुरा; धबौली की माटी का वह बेटा समीर किशोरावस्था में ही क्रिकेट के बॉल को ग्रीन पार्क की हवा में लहराने वाला ऐसा बेजोड़ प्रतिभावान खिलाड़ी निकला जिसने कई अवसर पर हारे हुए खेल को जीत कर दिखाया और गाँव के छोटे-बड़े सबके दिल पर राज करने लगा | परन्तु, असमय में ही माता आभा की ममता एवं पिताश्री सुशील के शील व संस्कार से आँखे चुराकर दुनिया के बाउंड्री के पार चला गया | अचानक जाते वक्त उस हवा (समीर) को तो कोई रोक नहीं सका, परन्तु धबौली की संवेदनशील माटी के सचेतन लोगों एवं शिवदत्त महराज के बहादुर बेटों ने समीर को पुनः बुलाकर आरम्भ कर दिया-

Sameer will remain alive in his deeds !
Sameer will remain alive in his deeds !

“समीर मेमोरियल क्रिकेट टूर्नामेंट”– जिसके उद्घाटनकर्ता डॉ.भूपेन्द्र मधेपुरी ने हृदय से अपने कर्मठ शिष्य इन्द्रभूषण सिंह उर्फ़ इन्दु बाबू जिला पार्षद सहरसा, छात्रनेता श्रीकान्त राय, मुखिया रामशंकर सिंह, प्राणमोहन सिंह, जानकीशरण सिंह, सुधीर सिंह, पूर्व मुखिया-बैद्यनाथ सिंह, राणा रंधीर, विजय कुमार सिंह, गौतम इन्फोटेक के निदेशक अमित गौतम, रणजीत सिंह, निरंजन सिंह, जवाहर सिंह, एच.एम.ब्रजमोहन सिंह सहित अध्यक्ष आयोजन समिति ललित सिंह, चंद्रभानु सिंह एवं मिडियाकर्मी संजय परमार, अंजन सिंह, महादेव, राजेश आदि को साधुवाद दिया, अभिनन्दन किया और इस माटी को बार-बार नमन किया |

आयोजन समिति एवं इनफोटेक के अमित गौतम की ओर से उद्घाटनकर्ता डॉ.मधेपुरी एवं मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित सहरसा प्रभात खबर ब्युरो चीफ दीपांकर को पुष्पगुच्छ के साथ गिफ्ट सहित शॉल ओढ़ाकर सम्मानित किया गया | लगे हाथ उपस्थित खिलाड़ियों एवं दर्शकों की भारी भीड़ को संबोधित करते हुए डॉ.मधेपुरी ने कहा कि खेल सदा से सामाजिक समरसता एवं सामाजिक सौहार्द बनाये रखने में अग्रणी रहा है | उन्होंने खेल की महत्ता पर विस्तार से चर्चा करते हुए कहा कि जब कुछ तथाकथित लोगों द्वारा समाज में विद्वेष फैलाया जाता है तब खिलाड़ी ही खेल के माध्यम से विद्वेष को मिटाकर भाईचारे का माहौल कायम करते हैं | इस खेल में निर्णायक भूमिका निभाने वाले अम्बुज सिंह, रमणजीत सिंह, प्रकाश बुलबुल, प्रशांत प्रीतम, श्रीराम, सानुराज आदि की डॉ.मधेपुरी ने हृदय से सराहना की |

Dr.Madhepuri and Mr.Deepankar elevating Organisers and Players at Green Park, Dhabauli .
Dr.Madhepuri and Mr.Deepankar elevating Organisers and Players at Green Park, Dhabauli .

डॉ.मधेपुरी ने इस धरती के उन लोगों को बार-बार नमन किया जिनके कारण धबौली की महिमामयी विरासत आज भी जीवित है | भारतरत्न डॉ.कलाम को याद करते हुए उन्होंने युवाओं के बीच डॉ.कलाम का खूबसूरत सन्देश परोसा- ये आँखें दुनिया को दोबारा नहीं देख पाएगी, इसलिए तुम्हारे अन्दर जो बेहतरीन है उसे दुनिया को देकर जाना—— यह आयोजन समाज को एक नयी दिशा प्रदान करेगी |

मुख्यअतिथि दीपांकर ने कहा कि विभिन्न क्षेत्रों में अपनी पहचान बनाने वाले लोगों ने धबौली में समीर की याद में खेल का आयोजन कर एक अच्छी परम्परा कायम की है | उन्होंने खिलाड़ियों को अनुशासनप्रिय होने की अपील की | मधेपुरा एवं धबौली के बीच होने वाले समीर क्रिकेट मेमोरियल के T-20 फाइनल मैच का श्रीगणेश झंडा फहराकर उद्घाटनकर्ता व अतिथियों द्वारा किया गया |

मास्टर बैंड के द्वारा राष्ट्रीय धुन के साथ दोनों टीम के सभी खिलाड़ियों एवं गणमान्य मैदान के चारो ओर ध्वज को सलामी देते हुए टॉस के लिए मैदान के मध्य में एकत्र हुए जहाँ डॉ.मधेपुरी द्वारा टॉस उछाला गया | धबौली टीम के कप्तान सोना सुधीर ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी किया लेकिन मधेपुरा के गेंदबाजों के सामने 20 ओवर में 162 रन बना पाये जबकि मधेपुरा की टीम के कप्तान रोहन ने सूझ-बूझ से खेला और 13 ओवर 2 गेंद पर ही जीत दर्ज कर ली | मैन आफ द मैच का खिताब मधेपुरा के अभिनव को मिला | मैन आफ द सीरीज एवं सर्वश्रेस्ठ बल्लेवाज का खिताब धबौली टीम के विनीत को एवं सर्वश्रेष्ठ क्षेत्ररक्षण सोना सुधीर को मिला |

Former MLA Kishore Kumar Munna, SDM Md.Jahangir Aalam, H.M Braj Mohan Singh LalBaba along with players and audiences celebrating the memories of Sameer at Green Park Dhabauli.
Former MLA Kishore Kumar Munna, SDM Md.Jahangir Alam, H.M Braj Mohan Singh LalBaba along with players and audience celebrating the memories of Sameer at Green Park Dhabauli.

खेल के समापन के साथ विजेता एवं उपविजेता टीम को पूर्व विधायक किशोर कुमार मुन्ना एवं सहरसा एस.डी.एम. मो.जहाँगीर आलम द्वारा अम्पायरों एवं समस्त खेल प्रेमियों के बीच कप और मेडल प्रदान किया गया | ग्रीनपार्क में दिनभर उत्सवी माहौल बना रहा | प्रो. संजय परमार ने मंच संचालन करते हुए खूब तालियाँ बटोरी |

सम्बंधित खबरें


मधेपुरा ने पूरे उत्साह के साथ मनाई मनीषी भूपेन्द्र की जयंती

मधेपुरा; समाजवाद को ताजिन्दगी ओढ़ने-पहनने व बिछाने वाले मनीषी भूपेन्द्र नारायण मंडल की राजकीय जयन्ती पटना में उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव द्वारा, मधेपुरा के भूपेन्द्र चौक पर डॉ.भूपेन्द्र मधेपुरी की अध्यक्षता में बिहार सरकार के आपदा प्रबन्धन मंत्री प्रो.चन्द्रशेखर द्वारा तथा उनके पैतृक गाँव रानीपट्टी में प्रो.श्यामल किशोर यादव की अध्यक्षता में समस्त जनप्रतिनिधियों एवं ग्रामीणों द्वारा और अन्त में बी.एन.मंडल वि.वि. के ऑडिटोरियम में सम्पदा पदाधिकारी डॉ.शैलेन्द्र कुमार की अध्यक्षता में संस्थापक कुलपति डॉ.रमेन्द्र कुमार यादव रवि द्वारा अनेक शिक्षाशास्त्रियों- पूर्व कुलपति डॉ.जयकृष्ण प्र.यादव, पूर्व प्रतिकुलपति डॉ.के.के.मंडल, प्रतिकुलपति डॉ.जे.पी.एन.झा, अभिषद सदस्य विद्यानन्द यादव, डॉ.परमानंद यादव सहित समाजसेवी साहित्यकार डॉ.भूपेन्द्र मधेपुरी एवं शिक्षक संघ के महासचिव डॉ.अशोक कुमार की उपस्थिति में दिनभर उत्सवी माहौल में मनायी गई |

Honourable Minister Prof.Chandrashekhar along with Dr.Madhepuri and Teachers, Students with Social Activists celebrating Bhupendra Jayanti at Bhupendra Chauk, Madhepura .
Honourable Minister Prof.Chandrashekhar along with Dr.Madhepuri and Teachers, Students with Social Activists celebrating Bhupendra Jayanti at Bhupendra Chauk, Madhepura .

सर्वप्रथम भूपेन्द्र चौक पर गाजे-बाजे एवं ढ़ोल-नगाड़े के साथ आये दर्जनों सरकारी एवं प्राइवेट स्कूलों के बच्चे जिसमें दार्जिलिंग पब्लिक स्कूल के निदेशक किशोर कुमार, तुलसी पब्लिक स्कूल के श्यामल कुमार सुमित्र, ज्ञानदीप निकेतन के निदेशक चिरामणि यादव, यू.के.इंटरनेशनल सहित अन्य स्कूली बच्चों के बीच मंत्री प्रो.चन्द्रशेखर एवं डॉ.मधेपुरी ने सर्वप्रथम उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण किया और मंत्री प्रो.चन्द्रशेखर ने कहा कि हमलोग भूपेन्द्र बाबू के विशाल चारित्रिक गुणों में से एक भी गुण को अपना लें तो समाज का भारी कल्याण होगा | वहीं डॉ.मधेपुरी ने कहा कि जो खुद के लिए जीता है वह मर जाता है, जो औरों के लिए जीता है वह कभी नहीं मरता ! भूपेन्द्र बाबू सदा औरों के लिए जीते रहे- वे कभी नहीं मरेंगे, सदा अमर रहेंगे——!! श्रद्धांजलि देने वालों में उनके परिवार के सदस्यों सहित दशरथ प्र.सिंह, इन्द्र ना.प्रधान, परमेश्वरी प्र.यादव, सचिन्द्र महतो, प्रो.विजेन्द्र ना.यादव, तेज ना.यादव, प्रो.एन.के.निराला, डॉ.अरुण कुमार, संतोष कुमार प्राणसुखका, योगेन्द्र महतो आदि प्रमुख थे |

Leading Schools of Madhepura Participating in Bhupendra Jayanti at Bhupendra Chauk, Madhepura .
Leading Schools of Madhepura Participating in Bhupendra Jayanti at Bhupendra Chauk, Madhepura .

वहीं वि.वि.ऑडिटोरियम में भूपेन्द्र जयंती समारोह सह वि.वि.स्थापना दिवस का उद्घाटन करते हुए संस्थापक कुलपति डॉ.रवि ने कहा कि भूपेन्द्र बाबू सरीखे लोग कभी-कभी अवतरित होते हैं, उनका प्रादुर्भाव होता है—- उन्होंने भूपेन्द्र बाबू के समाजवाद पर विस्तार से चर्चा करते हुए लोगों से उनके आदर्शों के अनुरूप काम करने की बातें कही |

Honourable Founder Vice-Chancellor Dr.R.K.Ravi and Dr.J.k.Yadav (ex-V.C) along with Pro.vice-chancellors and Syndicate Members----- Celebrating Bhupendra Jayanti at B.N.Mandal University Auditorium, Madhepura .
Honourable Founder Vice-Chancellor Dr.R.K.Ravi and Dr.J.k.Yadav (ex-V.C) along with Pro.vice-chancellors and Syndicate Members—– Celebrating Bhupendra Jayanti at B.N.Mandal University Auditorium, Madhepura .

पूर्व कुलपति डॉ.जयकृष्ण प्रसाद यादव ने कहा कि वि.वि. के सबसे बड़े पर्व पर भी ऐसी उदासीनता इसके कार्य दक्षता पर सवाल खड़ा करता है | प्रतिकुलपति डॉ.जे.पी.एन.झा ने भूपेन्द्र बाबू के आचरण को अपने-अपने मन में उतारने को ही सच्ची श्रद्धांजलि कही |

जहाँ पूर्व प्रतिकुलपति डॉ.के.के.मंडल, अभिषद सदस्य विद्यानंद यादव, प्रो.परमानंद यादव, शिक्षक संघ के महासचिव डॉ.अशोक कुमार आदि ने विस्तार से भूपेन्द्र बाबू के आचरण को उजागर करते हुए वि.वि. की वर्तमान स्थिति पर आक्रोश व्यक्त किया वहीं डॉ.भूपेन्द्र मधेपुरी ने वि.वि. स्थापना दिवस के बाबत खुलासा करते हुए कहा कि 1991 के 4 फरवरी को ही भूपेन्द्र चौक वाले उनकी प्रतिमा का उद्घाटन करने आये थे राष्ट्रीय नेता शरद-लालू-नीतीश | तत्कालीन मुख्यमंत्री लालू प्रसाद के द्वारा यह कहने पर कि प्रतिमा मंडप तो सुन्दर बना है परन्तु मूर्ति का साइज़ बहुत छोटा है- के जवाब में डॉ.मधेपुरी ने कहा- आप चाहेंगे तो साइज़ तुरंत बढ़ जाएगा सर ! मधेपुरा के लोग बहुत दिनों से वि.वि. के लिए संघर्ष कर रहे हैं…… आज ही घोषणा कर दीजिए ना सर !!…….. और संध्या पांच बजे उस प्रतिमा से प्रेरित होकर रासबिहारी विद्यालय के ऐतिहासिक मैदान में घोषणा कर दी मुख्यमंत्री लालू प्रसाद ने | इसके अतिरिक्त डॉ.मधेपुरी ने कई संस्मरणों के सहारे उनके व्यक्तित्व एवं चरित्र की ऊँचाइयों को सामने लाया |

श्रद्धांजलि सभा को संबोधित करते हुए डॉ.ललितेश मिश्रा, डॉ.राम भजन मंडल, रघुनाथ यादव आदि अन्य बुद्धिजीवियों ने कहा कि समाजवादी चिंतक भूपेन्द्र बाबू के आदर्शों से हम दूर होते जा रहे हैं | मौके पर वित्तीय सलाहकार सी.आर.डीगवाल, वित्त पदाधिकारी हरिकेश नारायण सिंह, डॉ.इन्द्र ना.यादव, डॉ.अब्दुल लतीफ़, डॉ.सिद्धेश्वर काश्यप, डॉ.हीराकांत मंडल, डॉ.प्रज्ञा प्रसाद, डॉ.कुशेश्वर यादव, डॉ.रामेश्वर प्रसाद, डॉ.आलोक कुमार, मनोज भटनागर, डॉ.बैद्यनाथ साह, सचिव अखिलेश्वर नारायण आदि ने पुष्पांजलि-श्रद्धांजलि दिया |

प्रभारी कुलसचिव प्रो.विश्वनाथ विवेका ने अतिथियों का स्वागत किया, प्रो.दयानन्द ने मंच संचालन एवं डॉ.आर.के.पी.रमण ने धन्यवाद ज्ञापन किया |

सम्बंधित खबरें


डी.एम. मो. सोहैल ने गुणवत्तापूर्ण शिक्षा को लेकर किया एक दिवसीय चिन्तन शिविर का आयोजन

Madhepura  जिले के डायनेमिक जिला पदाधिकारी जनाव मो.सोहैल साहब के निदेशानुसार गुणवत्तापूर्ण प्रारम्भिक शिक्षा हेतु रविवार को बी.एन.मंडल स्टेडियम में जिले के तेरहो प्रखंड के सभी प्राथमिक, मध्य एवं नवसृजित स्कूलों के एच.एम. की बैठक आयोजित की गयी | इस एक दिवसीय चिंतन शिविर का मुख्यअतिथि कहिए, उद्घाटनकर्ता या सर्वेसर्वा सब कुछ डी.एम. मो.सोहैल थे और शिक्षा विभाग से जुड़े सारे पदाधिकारीगण |

इस चिन्तन शिविर में केवल एक ही शिक्षाविद् व जनसेवी-साहित्यकार डॉ.भूपेन्द्र मधेपुरी को मुख्यवक्ता के रूप में आमन्त्रित किया गया था जिन्होंने अपने लम्बे तकरीर में भारतरत्न डॉ.ए.पी.जे. अब्दुल कलाम को जीवन्त कर दिया और प्रधानाध्यापकों को जगा-जगा कर खूब तालियाँ बटोरी |

शिविर में डी.एम. मो. सोहैल ने प्रारम्भिक शिक्षा व्यवस्था को दुरुस्त करने एवं विद्यालयों में शैक्षणिक वातावरण पुनर्स्थापित करने को लेकर एक दर्जन ठोस निर्देश देते हुए यह भी चेतावनी दी कि या तो शिक्षक निर्देशों का अक्षरश: पालन करें व अपनी कार्यशैली में सुधार लायें या फिर कठोर कारवाई के लिए मानसिक रूप से अपने को तैयार करने में लग जायें |

Interaction between DM and HM regarding the problems of the Schools .
Interaction between DM and HM regarding the problems of the Schools .

डी.एम. ने तन्मयतापूर्वक शिक्षकों की समस्याओं से रु-ब-रु होते हुए एक-एक का समाधान दिया और यह भी कहा कि समस्याएं कहाँ नहीं हैं | उन्हीं समस्याओं के बीच से ठोस रास्ता निकालना ही तो आपकी शैक्षणिक योग्यता की पहचान कराती है | उन्होंने खेद प्रकट करते हुए कहा कि हजार से अधिक शिक्षकों के पास स्कूल भवन निर्माण की राशि है किन्तु निर्माण कार्य अब तक अधुरा है | कई स्कूलों में घंटियाँ नहीं बजती | दस फीसदी एच.एम. को छोड़ शेष क्लास लेते ही नहीं |

डी.एम. मो. सोहैल ने शिविर को संबोधित करते हुए कहा कि आप शिक्षक की गरीमा को वापस लायें | उन्होंने डॉ.मधेपुरी का नाम लेते हुए शिक्षकों को डॉ.कलाम एवं डॉ.मधेपुरी के बीच घटित संस्मरण की ओर इशारा करते हुए कहा कि शिक्षक का संसार में कितना सम्मान है- उसे सच्चा शिक्षक बनने के बाद ही आप महसूसेंगे |

DM Md.Sohail, Dr.Madhepuri and others standing in a Shapathgrahan Ceremony .
DM Md.Sohail, Dr.Madhepuri and others standing in a Shapathgrahan Ceremony .

भला क्यों नहीं, जब डॉ.मधेपुरी ने तत्कालीन राष्ट्रपति डॉ.ए.पी.जे.अब्दुल कलाम से पहली बार पटना हवाई अड्डे पर (9 बजे रात, 30 दिसम्बर-2005) अपने मिलने की चर्चा की और यह कहा कि मेरे नाम के किनारे ‘शिक्षक’ लिखा देखते ही डॉ.कलाम खड़े होकर मेरा अभिवादन किये और लम्बे समय तक बैठे नहीं…… बल्कि यही बोले कि शिक्षक राष्ट्रनिर्माता होता है और उन्हें सम्मान दे रहा हूँ | यह सुनकर न जाने कितने प्रध्यानाध्यापकों की आँखें नम हो गई |

आरम्भ में शिविर का श्री गणेश करते हुए जिला शिक्षा पदाधिकारी बद्री नारायण मंडल द्वारा एक-एक बुके देकर मुख्यअतिथि मो.सोहैल एवं मुख्यवक्ता डॉ.मधेपुरी का स्वागत किया गया | मंच संचालन जिला शिक्षा पदाधिकारी एवं स्काउट गाइड के आयुक्त जयकृष्ण यादव ने संयुक्त रूप से किया | शिविर की सफलता के लिए शिक्षा विभाग के पदाधिकारीगण- सुरेन्द्र प्रसाद, शिवशंकर राय, चंद्र्शेखर राय, हरि झा, आदित्य प्रकाश एवं डॉ.यदुवंश सहित प्राथमिक शिक्षक संघ के अध्यक्ष वीरेन्द्र प्रसाद यादव आदि को सदैव मुस्तैद देखा गया |

All the Primary and Middle Schools HM attending Shapathgrahan Samaroh .
All the Primary and Middle Schools HM attending Shapathgrahan Samaroh .

अन्त में डी.एम. मो. सोहैल ने सभी प्रधानाध्यापकों को अपने शैक्षिक क्रियाकलापों के उन्नयन के बाबत शपथ दिलाई |

सम्बंधित खबरें