मधेपुरा जिला में कोविड-19 टीकाकरण का दूसरा विशेष अभियान

वैश्विक महामारी कोरोना के चलते विगत आठ-नौ महीनों से सब कुछ ठहर सा गया है। कोरोना से मुक्ति दिलाने में यह टीकाकरण बड़ी भूमिका निभाएगा। अन्य वैक्सीन की तरह यह कोविड-19 टीकाकरण पूर्णतया सुरक्षित है। इसे लगाने के बाद किसी तरह की परेशानी नहीं होती है-

ये बातें शनिवार को सदर अस्पताल में एसपी योगेंद्र कुमार, एडीएम उपेंद्र कुमार एवं डीपीआरओ मनीष कुमार की मौजूदगी में कोविड-19 का टीका लेने के बाद डीएम श्याम बिहारी मीणा ने कही। एसपी, एडीएम सहित अन्य पदाधिकारियों व कर्मियों ने टीकाकरण में शामिल लोगों से कहा कि टीका पूरी तरह सुरक्षित है। टीका लगने के बाद उन्हें कोई परेशानी नहीं हुई।

SP Yogendra Kumar, DM Shyambihari Meena and ADM Upendra Kumar all waiting for 2nd Phase inaugural Covid-19 Vaccination.
(From L to R) SP Yogendra Kumar, DM Shyambihari Meena and ADM Upendra Kumar all waiting for 2nd Phase inaugural Covid-19 Vaccination at Madhepura.

बता दें कि वृंदावन हॉस्पिटल के सर्जन डॉ.बरूण कुमार सहित अन्य कर्मियों एवं शहर की महिला चिकित्सक डॉ.महाश्वेता ने कोविड-19 का टीका लेने के बाद कहा कि टीका लेने में अच्छा लगा  एवं लोगों से यही कहा कि आपकी बारी आने पर कोविड-19 का टीका जरूर लगाएं और टीका लेने के लिए दूसरों को भी प्रेरित करें।

चलते-चलते यह भी कि यह प्रथम चरण  (16 जनवरी -5 फरवरी) में 80%  लक्ष्य प्राप्ति के साथ 7659 लोगों को कोविड-19 टीकाकरण किया जा चुका है। दूसरे चरण के प्रथम दिन सिविल सर्जन डॉ.रामप्रीत रमण सहित जिले भर के 311 अधिकारियों व कर्मचारियों ने कोविड-19 के टीके  लगवाए । बकौल  सीएस  डॉ.आरपी रमण जिले के  अन्य 12 केंद्रों पर  टीकाकरण का कार्य जारी है।  लोगों में  टीकाकरण को लेकर जागृति आई है और आत्मविश्वास जगा है। मौके पर डीआईओ डॉ.बीपी गुप्ता, अस्पताल उपाधीक्षक डॉ.डीपी गुप्ता आदि सहित अस्पताल मैनेजर कुमार नवनीत चंद्र व अन्य मौजूद थे।

सम्बंधित खबरें