जिले को जो करेगा गौरवान्वित, वह होगा सम्मानित- डॉ.मधेपुरी

कटिहार जिले के संगीत प्रेमियों एवं साहित्यानुरागियों द्वारा ऑनलाइन संगीतकारों की प्रतिभा को यूट्यूब के माध्यम से ढूंढ निकाला गया। फाइनल राउंड के 18 कलाकारों में मधेपुरा जिले के रौशन कुमार ने द्वितीय स्थान तथा शिवाली ने ऑनलाइन लाइक्स में प्रथम स्थान प्राप्त कर मधेपुरा जिले का नाम रोशन किया।

Emerging Singer of Kosi Region Shivali is being honoured & encouraged by Samajsevi Dr.Bhupendra Madhepuri along with Zila Kabaddi Sangh President Jayakant Yadav, Secretary Arun Kumar and others at B.N.Mandal Indoor Stadium, Madhepura.
Emerging Singer of Kosi Region Shivali is being honoured & encouraged by Samajsevi Dr.Bhupendra Madhepuri along with Zila Kabaddi Sangh President Jayakant Yadav, Secretary Arun Kumar and others at B.P.Mandal Indoor Stadium, Madhepura.

बता दें कि इस उपलब्धि पर जिला कबड्डी संघ के बैनर तले बी.पी.मंडल इंडोर स्टेडियम में मधेपुरा के भीष्म पितामह कहे जाने वाले समाजसेवी-साहित्यकार डॉ.भूपेन्द्र नारायण मधेपुरी ने अंगवस्त्रम, माला-बुके व स्मृति चिन्ह देकर रौशन कुमार एवं शिवाली को सम्मानित किया। डॉ.मधेपुरी ने जिले का नाम रोशन करने वाले सभी प्रतियोगियों के प्रति हृदय से शुभकामनाएं व्यक्त की।

Emerging Singer of Kosi Region Raushan Kumar is being honoured & encouraged by Samajsevi Dr.Bhupendra Madhepuri along with Zila Kabaddi Sangh President Jayakant Yadav, Secretary Arun Kumar, Principal Dr.Bhushan and Pradeep Kumar Shrivastava at B.N.Mandal Indoor Stadium, Madhepura.
Emerging Singer of Kosi Region Raushan Kumar is being honoured & encouraged by Samajsevi Dr.Bhupendra Madhepuri along with Zila Kabaddi Sangh President Jayakant Yadav, Secretary Arun Kumar, Principal Dr.Bhushan and Pradeep Kumar Shrivastava at B.P.Mandal Indoor Stadium, Madhepura.

इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रुप में डॉ.भूपेन्द्र मधेपुरी ने जिला कबड्डी संघ के अध्यक्ष जयकांत यादव, सचिव सह स्वागताध्यक्ष अरुण कुमार सहित कॉलेजिएट स्कूल के प्राचार्य डॉ.सुरेश कुमार भूषण, इप्टा के सुभाष चंद्रा, जिला टेबल टेनिस के सचिव प्रदीप कुमार श्रीवास्तव, रेफरी बोर्ड के चेयरमैन मनीष कुमार एवं राष्ट्रीय स्तर के प्रतिभावान खिलाड़ियों को संबोधित करते हुए कहा कि सफलता हासिल करने के लिए युवाओं में लक्ष्य, क्षमता तथा आत्मविश्वास का होना जरूरी है। डाॅ.मधेपुरी ने यह भी कहा कि युवा एवं नवोदित संगीतकार सतत् अभ्यास के जरिए अपनी क्षमताओं का अनंत गुना विस्तार तो कर ही सकते हैं, साथ ही माता-पिता सहित अपने जिला, प्रदेश व देश का भी नाम रोशन कर सकते हैं। कुछ कर दिखाने के लिए मौसम की नहीं बल्कि जिद्दी व संकल्पी मन की जरूरत होती है।

यह भी बता दें कि अध्यक्ष जयकांत, प्राचार्य डॉ.भूषण एवं इप्टा के सुभाष चंद्रा ने कहा कि संगीत क्षेत्रीय श्रेष्ठ कलाकारों को सम्मानित कर कबड्डी संघ ने सही मायने में एक अलग पहचान बनाई है… एक नई मिसाल कायम की है। मौके पर शिवाली के पिताश्री संजय कुमार, रितेश रंजन, आनंद कुमार, सुमित-संतोष, रुपेश-आशुतोष आदि मौजूद थे। अंत में सचिव अरुण कुमार ने धन्यवाद ज्ञापित किया।

सम्बंधित खबरें


पर्यावरण सुरक्षा हेतु मेघालय के डीसी 10 कि.मी. पैदल जाकर प्रति सप्ताह 20 किलो सब्जी लाते हैं

जहां अमेरिका के पूर्व प्रेसिडेंट बराक ओबामा पर्यावरण की सुरक्षा हेतु आजकल साईकिल से सब्जी खरीदने बाजार जाते हैं वहीं मेघालय के आईएएस ऑफिसर राम सिंह हर हफ्ते रविवार को 10 किलोमीटर पैदल जाकर सब्जियां लाते हैं। पर्यावरण की रक्षा के लिए चारो ओर जागरूकता फैलाई जा रही है…  दुनिया एकजुट होने लगी है। वैश्विक आयोजन के रूप में दुनिया के सैकड़ों देशों ने कार फ्री डे उत्सव के रूप में हाल ही में मनाया है।

बता दें कि मेघालय की वेस्ट गारो हिल्स में कार्यरत आईएएस अफसर (डीसी) राम सिंह का कहना है कि इसके पीछे उनका मकसद है- स्थानीय किसानों की मदद करना और प्लास्टिक का इस्तेमाल न कर सेहत व पर्यावरण के संरक्षण हेतु सब को संदेश देने की कोशिश करना।

यह भी बता दें कि इस मिशन में उनका परिवार भी सहयोग कर रहा है। पत्नी भी साथ देती है तथा मां की पीठ पर उनकी नन्ही बेटी भी। वह नन्ही गुड़िया इसी उम्र से पहाड़ी पगडंडियों के उतार-चढ़ाव को महसूसने लगती है।

चलते-चलते यह संदेश कि इस मिशन में ना प्लास्टिक का उपयोग, ना वाहन का प्रदूषण, ना ट्रैफिक जाम… साथ-साथ मॉर्निंग वॉक भी। यह पहल दूसरे अफसरों को भी पसंद आने लगी है मधेपुरा अतकब के पाठक इसे पसंद करेंगे…।

 

सम्बंधित खबरें


चाहे दीप कोई जलाए….. लेकिन हर घर में शिक्षा का दीप जले- डॉ.मधेपुरी

स्थानीय किरण पब्लिक स्कूल के संस्थापक जयप्रकाश यादव की प्रतिमा के अनावरणकर्ता प्राइवेट स्कूल एंड चिल्ड्रन वेलफेयर एसोसिएशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष समायल अहमद ने आयोजित भव्य समारोह को संबोधित करते हुए सभी अभिभावकों से यही कहा कि अगर आप बच्चों में सकारात्मक ऊर्जा देंगे तो स्कूल भी आपके बच्चों को अतिरिक्त ऊर्जा भर कर बेहतर भविष्य देगा। श्री अहमद ने कहा कि सकारात्मक सोच वाले छात्र हर क्षेत्र में सफल होते हैं। सकारात्मक सोच वाले बच्चे ही अपने माता-पिता व गुरुजनों का भरपूर सम्मान करते हैं।

Kiran Public School.
Pratima Anawaran Function Kiran Public School.

बता दें कि मुख्य अतिथि के रुप में बीएन मंडल विश्वविद्यालय के प्रति कुलपति डॉ.फारुख अली ने छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि हर चीज में गलती ढूंढने से बेहतर होगा कि कमी में सुधार कैसे हो…. उस पर विचार होना चाहिए। प्रोवीसी ने कहा कि शिक्षा का दीप जयप्रकाश बाबू ने जिस तरह जलाया उसकी चमक बरकरार रखना आज सबसे कड़ी चुनौती है।

Dr.Madhepuri addressing students, teachers & guardians during the function at Kiran Public School,Madhepura.
Dr.Madhepuri addressing students, teachers & guardians during the function at Kiran Public School,Madhepura.

इस अवसर पर विशिष्ट अतिथि डॉ.भूपेन्द्र नारायण यादव मधेपुरी ने जयप्रकाश बाबू के योगदान की चर्चा करते हुए निदेशक अमन प्रकाश से यही कहा- बेटा बने सरताज पिता का उस बेटे की जय हो। ये बातें सुनते ही बच्चों की तालियों से सारा परिसर गूंज उठा। डॉ. मधेपुरी ने भारत रत्न डॉ.एपीजे अब्दुल कलाम के जीवन से सीख लेने की विस्तृत चर्चा करते हुए बच्चों से यही कहा कि सूरज की तरह चमकने के लिए पहले सूरज की तरह जलना पड़ता है।

आरंभ में बच्चों की स्वागत गान एवं किशोर जी द्वारा जयप्रकाश बाबू की जीवनी की प्रस्तुतीकरण अतिथियों को आकर्षित कर लिया। जयप्रकाश बाबू के सुपुत्र एवं विद्यालय के निदेशक अमन प्रकाश ने अतिथियों का स्वागत करते हुए कहा कि एक छोटे से घर में शुरू होने वाला शिक्षण संस्थान आज तीन अलग-अलग स्थानों पर संचालित हो रहा है।

मौके पर जिलाध्यक्ष किशोर कुमार, संघ प्रवक्ता मानव कुमार सिंह, प्रांतीय सचिव एके अरविंद, संयोजक अबू जफर, विद्यालय प्रभारी मुकेश कुमार झा आदि ने अपने विचार व्यक्त किये।

सम्बंधित खबरें


चिराग 28 नवंबर को संभालेंगे लोजपा की कमान

रामविलास पासवान लोक जनशक्ति पार्टी की कमान अपने बेटे चिराग पासवान को सौंपने जा रहे हैं। यह तो खैर पहले से तयप्राय था कि चिराग ही उनके उत्तराधिकारी होंगे, लेकिन अपने सक्रिय रहते ही रामविलास पार्टी की जिम्मेवारी विधिवत चिराग को सौंप देंगे, यह तय नहीं था। पर लोजपा सुप्रीमो ने सबको चौंकाते हुए बाकायदा इसके लिए दिन भी घोषित कर दिया है। जी हाँ, आगामी 28 नवंबर को लोजपा के स्थापना दिवस पर रामविलास पासवान बेटे चिराग पासवान को पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष की जिम्मेवारी सौंप देंगे। फिलहाल उन्‍हें बिहार लोजपा के प्रभारी अध्‍यक्ष का दायित्व सौंपा गया है।

बता दें कि चिराग को प्रदेश का प्रभारी अध्यक्ष बनाने से पूर्व तेजी से चले घटनाक्रम में बिहार लोजपा के अध्यक्ष पशुपति कुमार पारस ने मंगलवार को अपने पद से इस्तीफा दे दिया। पारस ने प्रदेश अध्यक्ष के तौर पर हाल ही में पार्टी की सभी कमेटियों को भंग कर दिया था और तय यह हुआ था कि दशहरा के बाद पार्टी की नई कमेटी का गठन किया जाएगा और बड़े स्तर पर सदस्यता अभियान भी आरंभ होगा। ध्यातव्य है कि पारस लोजपा के स्थापना काल से ही पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष थे और संगठन का जिम्मा संभालते रहे थे। अब उन्हें दलित सेना का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाया गया है। रामचंद्र पासवान के निधन के बाद से यह पद खाली था।

बहरहाल, लोजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष रामविलास पासवान ने चिराग को राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाने की घोषणा करते हुए कहा कि इसके पीछे यह उद्देश्य है कि युवा पीढ़ी को जितनी जल्दी हो सके पार्टी चलाने का जिम्मा सौंप दिया जाए। गौरतलब है कि चिराग ही लोजपा संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष भी हैं।

सम्बंधित खबरें


पर्यावरण की रक्षा के लिए दुनिया एकजुट होने लगी है

लंदन में बच्चों के भविष्य को सुरक्षित बनाने के लिए माताओं ने पर्यावरण की सुरक्षा के उद्देश्य से प्रदर्शन करना शुरू कर दिया है। फलस्वरूप दुनिया के लगभग 100 देशों ने कार फ्री डे उत्सव के रूप में मनाया। लगभग 200 सड़कों पर ट्रैफिक बंद रहा। जर्मनी और फ्रांस में लोग साइकिल पर दिखे तथा पुर्तगाल में सड़कों पर मैराथन रेस का आयोजन किया गया। कहीं-कहीं सड़कों पर योग की कक्षाएं भी आयोजित की गई।

बता दें कि वर्ष 1973 में कार फ्री डे की पहल तब हुई थी जब तेल पर संकट छाया था। परंतु वर्ष 2000 में यह वैश्विक आयोजन का रूप लेने लगा। वर्ल्ड कार फ्री नेटवर्क द्वारा इसकी शुरुआत की गई। आयोजकों का दावा है कि लगभग 1500 शहर इस साल से जुड़ चुके हैं। यूं तो रविवार यानी (22 सितंबर कार फ्री डे) को दुनिया के 100 से ज्यादा देशों के 1500 से ज्यादा शहरों में गाड़ियां चलना बंद रही…. लोग सड़कों पर लंच लेते व आराम करते नजर आए। कहीं-कहीं तो लोग सड़कों पर योग करते भी देखे गए।

यह भी बता देना उचित होगा कि लंदन में यह सबसे बड़ा कार फ्री डे माना गया क्योंकि वहां 200 से ज्यादा रास्तों पर ट्रैफिक पूरी तरह बंद रहा। सेंट्रल लंदन में भी वाहन बंद रहे। वहां के मेयर सादिक खान दिनभर साइकिल से पूरे शहर में घूमते नजर आए। टावरब्रिज पर “योग सेशन” रखा गया था। शॉपिंग सेंटर पर लोगों द्वारा पैदल चलकर खरीदारी करते देखा गया।

चलते-चलते यह भी बता दें कि फ्रांस की राजधानी पेरिस में चौथी बार कार फ्री डे का आयोजन हुआ। हाँ, कहीं-कहीं बुजुर्गों के लिए मोबिलिटी स्कूटर की छूट दी गई। बर्लीन में बुजुर्ग महिलाएं साइकिल को फूल और बैलून से सजाकर निकली। और तो और….. इसके अलावे भारत, चीन, जापान, इराक आदि में भी बड़ी संख्या में लोग इसमें शामिल हुए।

सम्बंधित खबरें


पटना में होगा देश का पहला और एकमात्र डॉल्फिन रिसर्च सेंटर

देश का पहला और एकमात्र डॉल्फिन रिसर्च सेंटर पटना में बनने जा रहा है। 71 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले इस अत्याधुनिक रिसर्च सेंटर के भवन निर्माण का शिलान्यास मुख्यमंत्री नीतीश कुमार 5 अक्टूबर 2019 को विश्व डॉल्फिन दिवस पर करेंगे।

गौरतलब है कि केन्द्र सरकार की तरफ से रिसर्च सेंटर के निर्माण के लिए वर्ष 2013 में ही 29 करोड़ रुपये आ गए थे लेकिन भूमि संबंधी विवाद के कारण भवन का शिलान्यास नहीं हो पा रहा था। यह विवाद अब समाप्त हो गया है। इस रिसर्च सेंटर के लिए पटना विश्वविद्यालय की ओर से पटना लॉ कॉलेज के पास गंगा तट पर दो एकड़ भूमि उपलब्ध कराई गई है, जिस पर निर्माण कार्य शुरू होगा। कहने की जरूरत नहीं कि रिसर्च सेंटर बन जाने से यहां देश-विदेश के विशेषज्ञ शोध करने के लिए आएंगे। पटना विश्वविद्यालय के छात्रों को भी डॉल्फिन पर शोध करने का मौका मिलेगा।

ध्यातव्य है कि 5 अक्टूबर 2009 को तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने गांगेय डॉल्फिन को राष्ट्रीय जलीय जीव घोषित किया था। डॉल्फिन को जलीय जीव घोषित कराने का श्रेय पटना विवि के प्रोफेसर डॉ. आरके सिन्हा को जाता है। इसके लिए राजेंद्र सहनी नामक मछुआरे और उनकी टोली को भी श्रेय जाता है, जिन्होंने डॉल्फिन के रहन-सहन और खान-पान के विषय में काफी बातें उजागर की थीं। यह भी जानें कि डॉल्फिन पर देश में पहली पीएचडी डॉ. गोपाल शर्मा के नाम है। डॉ. शर्मा फिलहाल भारतीय प्राणी सर्वेक्षण के बिहार प्रभारी एवं वरीय वैज्ञानिक हैं।

सम्बंधित खबरें


जोशीला पंगा द्वारा आयोजित ग्रामीण कबड्डी लीग का उद्घाटन किया डॉ.मधेपुरी ने

मधेपुरा जिला मुख्यालय के रासबिहारी उच्च माध्यमिक विद्यालय के ऐतिहासिक मैदान में डे एण्ड नाइट क्रिकेट की तरह रविवार की रात में ग्रामीण कबड्डी लीग का भव्य उद्घाटन बीएन मंडल विश्वविद्यालय के पूर्व परीक्षा नियंत्रक डॉ.भूपेन्द्र नारायण यादव मधेपुरी ने किया। इस अवसर पर उद्घाटनकर्ता डॉ.मधेपुरी, मुख्य अतिथि मधेपुरा कॉलेज के प्राचार्य डॉ.अशोक कुमार, विशिष्ट अतिथि विश्वविद्यालय क्रीड़ा उप सचिव डॉ.शंकर मिश्र एवं अन्य गणमान्य द्वारा संयुक्त रूप से दीप प्रज्ज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया।

Udghatankarta Dr.Bhupendra Madhepuri encroaching Players.
Udghatankarta Dr.Bhupendra Madhepuri encroaching Players.

बता दें कि जिले में कबड्डी का लाइफ-लाइन माने जाने वाले सचिव अरुण कुमार के निर्देशन में छात्राओं के स्वागत गान के अतिरिक्त प्रिया सिंह के नृत्य मिश्रित स्वागत गीत सबों को मंत्रमुग्ध कर दिया। लायंस क्लब के अध्यक्ष डॉ.सच्चिदानंद यादव, स्काउट एंड गाइड के प्रशिक्षण आयुक्त जयकृष्ण यादव, वार्ड पार्षद दंपत्ति रेखा देवी व ध्यानी यादव, प्राचार्य डॉ.सुरेश कुमार भूषण, अमित आनंद, शिक्षा रत्न डॉ.मानव कुमार सिंह, मोहम्मद शब्बू आदि खेल प्रेमियों की उपस्थिति में उद्घाटनकर्ता डाॅ.मधेपुरी द्वारा नारियल फोड़ने एवं अगरबत्ती जलाने की परंपराओं को पूरा करने के साथ उद्घाटन मैच के खिलाड़ियों से परिचय प्राप्त किया गया।

Dr.Madhepuri addressing Players, Organisers & Spectators.
Dr.Madhepuri addressing Players, Organisers & Spectators.

इस अवसर पर डॉ.मधेपुरी ने खेल की महत्वता पर प्रकाश डालते हुए यही कहा कि खेल कोई भी हो वह देश की एकता और अखंडता को बनाए रखने में अपना अमूल्य योगदान देता है। उन्होंने यह भी कहा कि जिला कबड्डी संघ के सचिव अरुण कुमार हमेशा नई ऊर्जा के साथ कबड्डी प्रतियोगिता कराने में अद्भुत लगन और मेहनत के साथ लगे रहते हैं।

डॉ.अशोक कुमार एवं डॉ.शंकर मिश्र ने मौके पर कहा कि ऐसी प्रतियोगिताएं लगातार आयोजित कर बच्चों के अंदर छिपी प्रतिभाओं को निखारने के फलस्वरूप मधेपुरा जिला कबड्डी खेल के क्षेत्र में अपनी अलग पहचान बना ली है। उन्होंने प्रबंधक कुलदीप शर्मा एवं प्रतियोगिता प्रभारी अजीत चौधरी की लगन व मेहनत की सराहना की ।

चलते-चलते यह भी बता दें कि जहां उद्घाटन मैच में दार्जिलिंग पब्लिक स्कूल में 32 अंक और शार्क इंटरनेशनल पब्लिक स्कूल ने 18 अंक प्राप्त किया वहीं रेफरी मनीष कुमार, प्रवीण कुमार, गुलशन कुमार, राहुल कुमार, नीरज कुमार, गौरी कुमार एवं सुमित कुमार ने मनोयोग से खेल संपन्न कराया।

 

सम्बंधित खबरें


वृंदावन हॉस्पिटल द्वारा गोद ली गई सोनी राज को उनकी उपलब्धि पर डॉ.मधेपुरी ने किया उत्साहित

वृंदावन हॉस्पिटल के संचालक द्वय चिकित्सक डॉ.बरुण कुमार एवं डॉ.रश्मी भारती ने कराटे क्वीन सोनी राज को 10 वर्ष पूर्व गोद ली थी और हर तरह की निशुल्क स्वास्थ्य सेवाएं आज तक लगातार उपलब्ध कराई जा रही है। कराटे खिलाड़ी के रूप में वह इंडोनेशिया, मलेशिया, श्रीलंका व सिंगापुर आदि देशों में कई प्रकार की चैंपियनशिप में मेडल जीतकर मधेपुरा को गौरवान्वित करती रही है।

ग्रेटर नोएडा के शहीद वीएस पथिक इंडोर स्टेडियम में चार दिवसीय (12-15 सितंबर) “एशियन सैम्बो चैंपियनशिप” के 48 किलोग्राम भार वर्ग के प्रतिस्पर्धा में विश्व के 25 देशों के खिलाड़ियों से संघर्ष करते हुए मधेपुरा की बेटी सोनी राज ने भारत के लिए कांस्य पदक जीतकर देश को एक मुकाम दिलाया है तथा वृंदावन हॉस्पिटल को गौरवान्वित किया है। इसलिए सोनी राज की उपलब्धि पर वृंदावन हॉस्पिटल द्वारा मिठाइयां बांटी जा रही है।

इस अवसर पर वृंदावन हॉस्पिटल के संरक्षक डॉ.भूपेन्द्र मधेपुरी ने भारत के लिए कांस्य पदक जीतने वाली सोनी राज एवं भारतीय सैम्बो टीम मैनेजर सामंत कुमार रवि की हौसला अफजाई करते हुए यही कहा-

सफलता का स्वाद हर कोई पाना चाहता है और इसे पाने के लिए हर आदमी पूरी मेहनत भी करता है। परंतु, सफलता उसे ही मिलती है जो हर परिस्थिति में अपने लक्ष्य पर टिका रहता है… यूं ही कोई चैंपियन नहीं बन जाता… चैंपियन बनने के लिए बहुत कुछ न्योछावर करना पड़ता है।

सम्बंधित खबरें


रहा जिधर ही नीतीश कुमार, उधर ही चल पड़ा बिहार : ऊर्जा मंत्री बिजेंद्र प्रसाद यादव

मधेपुरा जिला के प्रभारी मंत्री, बिहार के ऊर्जा मंत्री एवं नीतीश मंत्रिमंडल के रीढ़ माने जाने वाले व विभिन्न विभागों को वखूबी ऊंचाई प्रदान करने वाले वरिष्ठ मंत्री बिजेंद्र प्रसाद यादव ने पटना के रविंद्र भवन में आयोजित जदयू की राज्य परिषद की बैठक में प्रदेश अध्यक्ष के पद पर लगातार तीसरी बार वशिष्ठ नारायण सिंह के निर्विरोध निर्वाचन पर प्रसन्नता व्यक्त की।

बता दें कि निर्वाचन पदाधिकारी मृत्युंजय कुमार सिंह द्वारा वशिष्ठ नारायण सिंह के सर्वसम्मति से प्रदेश अध्यक्ष निर्वाचित होने की घोषणा किए जाने के तुरंत बाद जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह मुख्यमंत्री बिहार नीतीश कुमार ने उनको बधाई दी। ताजपोशी के बाद जदयू के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह ने राष्ट्रीय अध्यक्ष के प्रति आस्था व्यक्त करते हुए कहा-

विचार की राजनीति पर संकट के बादल छाए हैं…. राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार लगातार इस संकट का मुकाबला कर रहे हैं।

जहां जदयू के सांगठनिक राष्ट्रीय महासचिव आरसीपी सिंह ने इस अवसर पर बधाई देते हुए कहा कि जदयू कार्यकर्ताओं की ताकत की बदौलत 2019 के लोकसभा चुनाव में एनडीए को 40 में से 39 सीटों पर जीत मिली, वहीं लोकसभा में जदयू के नेता राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह ने कहा कि नीतीश जिसे आज करते हैं….. देश उसे बाद में अपनाता है। अंत में बिहार के ऊर्जा मंत्री बिजेंद्र प्रसाद यादव ने जीत पर बधाई देते हुए कहा कि वर्ष 2010 एवं 2015 के चुनाव में यह साबित हो गया-

रहा  जिधर ही नीतीश कुमार

उधर ही चल पड़ा बिहार

सम्बंधित खबरें


इंडोनेशिया में लगी आग से पड़ोसी देश मलेशिया के 1500 स्कूलों में छुट्टी घोषित

एक महीना पहले से इंडोनेशिया के  2 बड़े प्रांतों में आग की धुंध की वजह से स्कूलों में छुट्टी घोषित कर दी गई है | इंडोनेशिया के सुमात्रा और बोर्नियो में लगभग एक महीना पहले आग लगी थी | इंडोनेशिया के बोर्नियो नेशनल पार्क तो आग से तबाह हो चुकी है | यह आग दिनों-दिन फैलती ही जा रही है | अब तक लगभग 3000 जगहों पर आग लग चुकी है | चारों तरफ धुआं का ज्यादा असर दिखाई देता है |

बता दें कि इस भयावह आग को बुझाने के लिए सेना को लगाया गया है | आग बुझाने के लिए 16,000 सैनिकों एवं 52 हेलीकॉप्टरों को लगाया गया है | आग इतना विकराल रूप धारण कर लिया है कि 6 राज्यों में तीन लाख 28 हज़ार हेक्टेयर में फैले जंगल राख हो चुके हैं जबकि हेलीकॉप्टरों से सैनिकों द्वारा लगातार कृत्रिम बारिश की जा रही है | इन हेलीकॉप्टरों द्वारा अब तक 3 करोड़ लीटर पानी और 275 टन नमक छिड़का जा चुका है |

यह भी जानिए कि पड़ोसी देश मलेशिया में दो रोज कमल जब बच्चों को सांस लेने में दिक्कत होने लगी तथा गहरे धुंध की वजह से वाहनों का आवागमन अवरुद्ध होने लगा तब पूरे मलेशिया के डेढ़ हजार से ज्यादा स्कूलों में छुट्टी घोषित कर दी गई |

चलते-चलते यह भी बता दें कि इंडोनेशिया में लगी इस भीषण आग के चलते पड़ोसी देश सिंगापुर में भी धुंध छाने लगी है | मलेशिया और सिंगापुर से उड़ान भरने वाले 90 फ्लाइटों को रद्द कर दिया गया है | लोगों के बीच लगभग 200 एनजीओ द्वारा मुफ्त में फेस मास्क बांटे जा रहे हैं | अमेजन की आग की तरह यह आग भी लोगों को तबाह कर रही है |

सम्बंधित खबरें