मधेपुरा के भूपेन्द्र कला भवन में आजादी के अमृत महोत्सव पर खाद्य सुरक्षा सप्ताह समारोह हुआ संपन्न

स्थानीय भूपेन्द्र कला भवन में भारतीय खाद्य निगम मंडल (सहरसा, सुपौल एंड मधेपुरा) के अधिकारियों-पदाधिकारियों एवं कर्मियों द्वारा आजादी के अमृत महोत्सव पर ‘खाद्य सुरक्षा सप्ताह’ समारोह पूर्वक मनाया गया।

Samajsevi-Shikshavid Dr.Bhupendra Madhepuri addressing 'Khadya Suralsha Saptah' at Bhupendra Kala Bhawan, Madhepura.
Samajsevi-Shikshavid Dr.Bhupendra Madhepuri addressing ‘Khadya Suralsha Saptah’ at Bhupendra Kala Bhawan, Madhepura.

बता दें कि समारोह का उद्घाटन बिहारीगंज विधानसभा क्षेत्र के कर्मठ विधायक माननीय निरंजन कुमार मेहता, एफसीआई के मंडल प्रबंधक एम. रूपम सिंह, समाजसेवी-साहित्यकार प्रो.(डॉ.)भूपेन्द्रनारायण यादव मधेपुरी, भाजपा नेता विजय कुमार विमल एवं जदयू जिला उपाध्यक्ष सुरेंद्र प्रसाद यादव ने सम्मिलित रूप से दीप प्रज्ज्वलित कर किया। अतिथियों का स्वागत अंगवस्त्रम, मोमेंटो एवं पुष्पगुच्छ देकर किया गया।

MLA Niranjan Mehta along with Dr.Bhupendra Madhepuri distributing Grains Packet.
MLA Niranjan Mehta along with Samajsevi Dr.Bhupendra Madhepuri distributing Grains Packet.

भारतीय खाद्य निगम के द्वारा खाद्य सुरक्षा की विधियों को लघु चलचित्र के माध्यम से मौजूद सभी तबकों के लोगों को दिखाया गया। खद्यान्न में वितरण को लेकर कई प्रकार के पंपलेट भी बांटे गए।

जानिए कि वरीय प्रबंधक निशांत रंजन ने बताया कि कोरोना काल में भारत सरकार द्वारा “प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना” के तहत जिले में 171 रैक से 4 लाख 70 हजार मैट्रिक टन चावल, गेहूं मंगवा कर बिहार राज्य खाद्य निगम के माध्यम से लाभार्थियों के बीच वितरित किया गया है। साथ ही विस्तार से मिड डे मील सहित विभिन्न योजनाओं की चर्चाएं की गई।

माननीय विधायक निरंजन मेहता ने अपने संबोधन में भारतीय खाद्य निगम के कार्य प्रणाली, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की सूझबूझ तथा अन्न भंडारण की विस्तार से चर्चा की। उन्होंने कोरोना काल में पीएम एवं सीएम द्वारा किए गए कार्यों की जमकर सराहना की। पूर्व चेयरमैन विजय कुमार विमल एवं जदयू के जिला उपाध्यक्ष सुरेंद्र यादव ने भी विस्तार से केंद्र एवं राज्य सरकार की उपलब्धियों एवं अन्न भंडारण की सराहना की।

समाजसेवी-साहित्यकार डॉ.भूपेन्द्र मधेपुरी ने गुरु नानक एवं समाजवादी चिंतक भूपेन्द्र नारायण मंडल को संदर्भित करते हुए कर्म की प्रधानता की विस्तार से चर्चा की। डॉ.मधेपुरी ने अन्न को भगवान का दर्जा देते हुए कहा कि अन्न का अपमान अपनी संस्कृति का अपमान है, अपने राष्ट्र का अपमान है।

मौके पर मौजूद रहे- एफसीआई के अधिकारी सौरव, सरफराज अहमद, सुनील कुमार सुमन, वीरेंद्र चौधरी, रामनिवास सिंह सहित अन्य कर्मचारीगण संजीव रजक, पवन कुमार, प्रभाकर कुमार, मनीष कुमार, दीपक कुमार, अमित कुमार, पंकज कुमार, अतुल, दानिश आदि।

सम्बंधित खबरें