पर्यावरण संरक्षण को मजबूत करने हेतु बीएनएमवी कॉलेज ने आयोजित किया राष्ट्रीय सेमिनार

बीएन मंडल विश्वविद्यालय के अंतर्गत बीएन मंडल वाणिज्य महाविद्यालय में शनिवार को “पर्यावरण ह्रास का सामाजिक व आर्थिक प्रभाव” पर दो दिवसीय राष्ट्रीय सेमिनार का श्रीगणेश हुआ। राष्ट्रीय सेमिनार का उद्घाटन बीएनएमयू के प्रभारी कुलपति डीएसडब्ल्यू डॉ.अशोक कुमार यादव, बीएनएमयू के पूर्व कुलपति प्रो.एके राय, पूर्व प्रति कुलपति डॉ.केके मंडल, सीनेटर डॉ.नरेश कुमार, टीपी कॉलेज के प्राचार्य डॉ.केपी यादव, बीएनएमवी के प्राचार्य डॉ.पीएन पीयूष एवं शिक्षक संघ के अध्यक्ष डॉ.अरविंद कुमार ने सम्मिलित रूप से दीप प्रज्जवलित कर किया।

Dr.Madhepuri discussing the utility of newly constructed Dr.Mahavir Pratibh Peeth with former Vice-Chancellor BNMU Prof.AK.Ray in the campus of BNMV College, Sahugarh-Madhepura.
Dr.Madhepuri discussing the utility of newly constructed Dr.Mahavir Pratibh Peeth with former Vice-Chancellor BNMU Prof.AK.Ray in the campus of BNMV College, Sahugarh-Madhepura.

इस अवसर पर प्रभारी कुलपति डॉ.एके यादव ने कहा कि पृथ्वी के हित को बचाने एवं अपना जीवन आगे बढ़ाने के लिए हम सभी को प्रकृति की ओर चलना अनिवार्य होगा। मुख्यवक्ता डॉ.एके राय ने इस सेमिनार को मील का पत्थर कहते हुए यह भी कहा कि दूर-दूर से आए विद्वानों एवं शोधकर्ताओं के विचार मंथन से कुछ ऐसा अवश्य निकलेगा जो समाज को नई दिशा प्रदान करेगी। पूर्व प्रति कुलपति डॉ.केके मंडल ने कहा कि पूर्वजों की अनदेखी का परिणाम है पर्यावरण का ह्रास। प्राचार्य डॉ.केपी यादव ने कहा कि पृथ्वी ही एक ऐसा ग्रह है जो जीवनदायी है। सीनेटर डॉ.नरेश कुमार ने बताया कि अभी भी पर्यावरण के लिए सचेत नहीं हुए तो हमारे लिए यह मृत्युदायी होगा।

Former University Professor of Physics Dr.B.N.Yadav Madhepuri is being honoured by Principal Prof.(Dr.)P.N.Piyush at National Seminar.
Former University Professor of Physics Dr.B.N.Yadav Madhepuri is being honoured by Principal Prof.(Dr.)P.N.Piyush at National Seminar.

सेमिनार का संचालन डॉ. शेफालिका शेखर ने किया। मौके पर पूर्व आपदा प्रबंधन मंत्री व मधेपुरा के विधायक प्रो.चंद्रशेखर, समाजसेवी-साहित्यिकार डॉ.भूपेन्द्र नारायण यादव मधेपुरी, डॉ.ए.फजल, महासचिव डॉ.अशोक कुमार, वर्सर डॉ.नवीन कुमार सिंह, डॉ.अरुण कुमार (विभागाध्यक्ष, पीजी जूलॉजी), डॉ.मृत्युंजय कुमार आदि मौजूद थे। सेमिनार में कुलगीत एवं स्वागत गान की प्रस्तुति प्रांगण रंगमंच के कलाकार मधुबाला द्वारा दी गई।

सम्बंधित खबरें