सिंहेश्वर मंदिर न्यास को जनहित में वृद्धाश्रम और आई हॉस्पिटल खोलना चाहिए- डॉ.मधेपुरी

सिंहेश्वर मंदिर न्यास समिति की एक बैठक मंदिर न्यास कार्यालय में न्यास समिति के सचिव सह एसडीएम वृंदा लाल की अध्यक्षता में हुई जिसमें वरीय सदस्य डॉ.भूपेन्द्र नारायण यादव मधेपुरी सहित सदस्य सरोज सिंह, सत्यजीत यादव, कन्हैया ठाकुर एवं मुन्ना ठाकुर उपस्थित थे |

बता दें कि चर्चा के क्रम में एसडीएम सचिव वृंदालाल ने सदस्यों को जानकारी दी कि इस साल के 8 महीनों में सिंहेश्वर मंदिर की आय में 40 लाख से अधिक की बढ़ोतरी हुई है | उन्होंने न्यास कर्मियों द्वारा की गई हाट वसूली के बाबत स्पष्ट रूप से यही कहा कि धार्मिक न्यास पटना को 1 अप्रैल से 18 सितंबर तक की भेजी गई रिपोर्ट के अनुसार मात्र मवेशी हाट से रिकॉर्ड 38 लाख 9 हज़ार 329 रूपये की आय हुई जबकि पिछले इसी 5 महीने 18 दिन में मवेशीहाट ठेकेदारी से मात्र 19 लाख 59 हज़ार 729 रुपए ही बनता था |

ट्रस्ट मेंबर डॉ.भूपेन्द्र नारायण मधेपुरी ने जब बताया कि स्थानीय सामाजिक संगठन द्वारा मंदिर परिसर की दुर्गा पूजा पर ₹1 लाख खर्च करने का प्रस्ताव दिया जा रहा है – तो इस प्रस्ताव को सचिव सहित सभी सदस्यों ने खारिज तब कर दिया जब स्थानीय सदस्यों द्वारा सिंहेश्वर मंदिर पूजा के नाम पर काटी जा रही फर्जी रसीद की चर्चा की गई | साथ ही ट्रस्ट के सदस्य सरोज सिंह के मंदिर के जर्जर लोहे की दानपेटी को स्टील की दानपेटी बनवाकर बदलने के प्रस्ताव को भी स्वीकृति दी गई |

अंत में डॉ.भूपेन्द्र मधेपूरी द्वारा एक दर्जन कर्मचारियों को लंबे अरसे से वेतन नहीं मिलने के सवाल को उठाने पर सदस्यों द्वारा उन्हें 10 दिनों के अंदर भुगतान अवश्य कर दिया जाय पर सहमति बनी | साथ ही डॉ.मधेपुरी द्वारा दिए गए जनकल्याणकारी प्रस्तावों- वृद्धाश्रम एवं एक आई हॉस्पिटल ट्रस्ट द्वारा खोलना चाहिए पर अग्रेतर कार्रवाई हेतु सहमति बनी और 2 अक्टूबर से दैनिक मजदूरी में ₹14 प्रतिदिन नीतीश सरकार द्वारा की गई वृद्धि पर भी विचार करने की सहमति बनी |

सम्बंधित खबरें