विरासत की श्रेष्ठता अपनाएं तो समाज आगे बढ़ेगा- डॉ.मधेपुरी

मधेपुरा का किरण पब्लिक स्कूल, जो अपनी उत्कृष्टताओं के चलते अंतरराष्ट्रीय मानकीकरण संस्था द्वारा जिले के प्रथम प्रमाणित स्कूल बना, अपने स्थापना काल से ही प्रतिवर्ष हर महीने भिन्न-भिन्न प्रकार की शैक्षिक एवं खेलकूद से संबंधित प्रतियोगिताएँ आयोजित करता है और वर्ष में एक दिन उत्साह के साथ समारोह पूर्वक आयोजित “Prize Distribution Ceremony” में सर्वाधिक अंक व विशिष्ट स्थान प्राप्त करने वाले तीन-तीन छात्र-छात्राओं को चयनित कर प्रोत्साहित करते हुए सम्मानित किया जाता है |

बता दें कि विभिन्न विधाओं में चयनित छोटे-बड़े सभी छात्रों को पुरस्कृत करने हेतु आयोजित समारोह का शुभारंभ उद्घाटनकर्ता के रूप में SDM संजय कुमार निराला, मुख्य अतिथि समाजसेवी साहित्यकार डॉ.भूपेन्द्र मधेपुरी, स्कूल की निदेशिका किरण प्रकाश व प्रबंध निदेशक अमन प्रकाश आदि ने सम्मिलित रूप से दीप प्रज्वलित कर किया |

यह जानें कि अतिथियों के स्वागत व सत्कार के बाद भाषण, वाद-विवाद, क्विज एवं अन्य शैक्षिक विधाओं एवं विभिन्न प्रकार के खेलों में प्रथम-द्वितीय-तृतीय आये प्रतिभागियों को मोमेंटो आदि देकर उद्घाटनकर्ता, मुख्य अतिथि व अन्य द्वारा पुरस्कृत एवं प्रोत्साहित किया गया |

इस अवसर पर उद्घाटनकर्ता एसडीएम ने छात्रों को समय से स्कूल आने की सीख देते हुए अपने स्कूली जीवन की चर्चाएं की | उन्होंने कहा कि एक दिन प्रार्थना समाप्त होने के बाद स्कूल आने पर उन्हें अकेले प्रार्थना करना पड़ा था, तब से वे सदा समय पर स्कूल आते रहे, कभी लेट नहीं हुए |

मुख्य अतिथि डॉ.मधेपुरी ने अपनी विरासत की श्रेष्टताओं की चर्चा करते हुए आधुनिक बिहार के निर्माता एवं प्रथम विधि मंत्री (बिहार) शिव नंदन प्रसाद मंडल की चर्चा की एवं बच्चों से यही कहा कि वे हमेशा यही चिंतन किया करते थे –

“…..No Soul should remain uneducated on the Earth.”

डॉ.मधेपुरी ने अपने संबोधन में कहा कि किरण पब्लिक स्कूल के संस्थापक जयप्रकाश बाबू भी अपनी विरासत की ऐसी-ऐसी श्रेष्टताओं को अपना कर ही इस स्कूल की स्थापना की होगी जिसे यहाँ के सभी शिक्षक कर्मियों द्वारा प्रतिदिन ऊंचाई प्रदान किया जा रहा है | उन्होंने समर्पित सभी शिक्षकों को कोटि-कोटि साधुवाद दिया |

मौके पर निदेशिका किरण प्रकाश, प्रबंध निदेशक अमन प्रकाश ने अपने उदगार से बच्चों को प्रोत्साहित किया | प्राचार्य किशोर कुमार ने मंच संचालित किया और अंत में धन्यवाद ज्ञापन भी किया |

सम्बंधित खबरें