Tag Archives: मधेपुरा

मधेपुरा के भूपेन्द्र चौक पर फहराया तिरंगा डॉ.मधेपुरी ने

मधेपुरा; समाजवादी चिन्तक भूपेन्द्र नारायण मंडल के नाम वाले ‘भूपेन्द्र चौक’ पर डॉ.भूपेन्द्र मधेपुरी ने स्कूली बच्चों एवं समाज सेवियों की उपस्थिति में भारतीय तिरंगा फहराया तथा गणतंत्र दिवस को भारत का सबसे बड़ा राष्ट्रीय त्योहार बताया | उन्होंने राष्ट्रीय धरोहरों व विरासतों को भी याद किया |

डॉ.मधेपुरी ने कहा कि आज ही के दिन यानी 26 जनवरी 1950 को देश का संविधान लागू हुआ था और भारत एक संप्रभुताशाली समाजवादी लोकतांत्रिक गणतंत्र के रूप में जन्म ग्रहण कर दुनिया के सामने आया था | तब से ही 26 जनवरी को प्रत्येक वर्ष ‘भारतीय गणतंत्र दिवस’ सर्वाधिक हर्सोल्लास एवं उत्साह के साथ मनाया जाता है |

उन्होंने बच्चों को यह भी जानकारी दी कि गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर महामहिम राष्ट्रपति द्वारा राष्ट्र के नाम संदेश प्रसारित किया जाता है | अगले दिन 26 जनवरी को प्रात: आजादी की लड़ाई में शहीद हुए जवानों की याद में ‘इंडिया गेट’ पर ‘अमर ज्योति’ प्रज्वलित कर 21 तोपों की सलामी दी जाती है | फिर महामहिम राष्ट्रपति द्वारा राष्ट्रीय ध्वोजोतोलन के साथ राष्ट्रगान होता है | इस गणतंत्र समारोह में महामहिम राष्ट्रपति के साथ एक विशिष्ठ विदेशी राष्ट्रप्रमुख आते हैं जिन्हें मुख्य अतिथि के रूप में आमंत्रित किये जाते हैं |

Dr.Bhupendra Madhepuri garlanding the Great Samajwadi Freedom Fighter Bhupendra Narayan Mandal before Flag Hoisting .
Dr.Bhupendra Madhepuri garlanding the Great Samajwadi Freedom Fighter Bhupendra Narayan Mandal before Flag Hoisting .

डॉ.मधेपुरी ने कहा कि आज के दिन प्रत्येक भारतीय के मन में देशभक्ति की लहर और मातृभूमि के प्रति अपार स्नेह भर उठता है जो ढेर सारी ऐतिहासिक स्मृतियों को बाहर निकालने के लिए बेताव व व्याकुल हो उठता है |

सम्बंधित खबरें


मधेपुरा ( Madhepura ) विधानसभा जदयू कार्यकर्ता सम्मेलन संपन्न

Madhepura –  जिला मुख्यालय के भूपेन्द्र कला भवन में मधेपुरा ( Madhepura )  विधान सभा के जदयू कार्यकर्ताओं का एक दिवसीय कार्यक्रम संपन्न हुआ जिसमें माननीय मंत्री द्वय नरेन्द्र ना. यादव व बीमा भारती सहित विधान पार्षद द्वय विजय कुमार वर्मा व हारून रशीद , विधायक रमेश ऋषिदेव , पूर्व विधायक मणिन्द्र कुमार मंडल , पूर्व जिला जदयू अद्यक्ष प्रो.विजेंद्र ना. यादव , पूर्व प्रमुख सियाशरण यादव , पूर्व युवा जदयू अद्यक्ष प्रो.सुजीत मेहता आदि की गरिमामयी उपस्थिति रही | इनके अतिरिक्त मंच पर सभी प्रखंडों , महिला व अल्पसंख्यक प्रकोष्ठों सहित दलित सेल , किसान सेल आदि के अद्यक्ष-सचिव विराजमान थे | अल्पसूचना पर भी दूर-दूर से आये कार्यकर्त्तागण की भीड़ थी |

Madhepura vidhansabha JDU Meeting .
Madhepura vidhansabha JDU Meeting .

सम्मेलन का उद्घाटन मंत्री द्वय , विधायक, पार्षद सम्मिलित रूप से दीप प्रज्ज्वलित कर किया | फिर पाग एवं अंगवस्त्रम से अतिथियों का स्वागत किया गया |

पहले कार्यकर्ताओं को संक्षेप में सुझाव के साथ अपना विचार रखने का समय दिया गया  जिसमें अधिकांश कार्यकर्ता जैसे दलित वर्ग के शिवनारायण सादा सहित मीणा देवी, गुड्डी देवी, डॉ.नीरज, योगेन्द्र महतो, राजेन्द्र प्र. यादव, डॉ. विजेंद्र, मनोज यादव, अशोक चौधरी, मो.जुम्मन आदि अन्य सभी का इशारा था कि जब महागठबंधन हो चुका है तो उसे जमीन पर भी तो दिखना चाहिए तभी तो मतदाता भी एक जुट होकर गठबंधन के प्रत्याशी की जीत आने वाले विधानसभा चुनाव में सुनिश्चित करा सकेंगे |

अंत में नेतृत्व की ओर से यही कहा गया कि चुनाव सिर पर चढ़कर बिगुल बजा रहा है | अब सभी कार्यकर्ता इस चुनावी समर में इस तरह कूद जाएँ जैसे घर में आग लगने पर घर के सभी सदस्य आपसी झगडे भुलाकर उससे निपटने के लिए जी जान लगा देते हैं | उसी तरह आपसी भेद-भाव कोभुलाकर तथा मान-सम्मान की परवाह किये बिना इस चुनावी समर में कूद जायें और जीत का परचम लहराने के बाद ही दम लें |

सम्मेलन में गोवर्धन मेहता, जयकिशोर-प्रसन्न-प्रधान जी, जयकान्त, अमरेश सरीखे समर्पित कार्यकर्ताओं की उपस्थिति रही | सम्मेलन की अद्यक्षता सियाराम यादव तथा मंच संचालन महेंद्र पटेल ने किया |

सभा समाप्ति के बाद सभी कार्यकर्त्ता व नेतागण पूर्व विधायक परमेश्वरी प्र. निराला के ज्येष्ठ भ्राताश्री स्मृतिशेष शिक्षक ह्रदय नारायण यादव के घर पर आमंत्रित भोज में सम्मिलित होने के लिए प्रस्थान किये तथा आयोजित श्रद्धांजलि सभा में भाग लिए |

Pradhan ji and Nirala ji paying homage to Hridya Narayan Babu
Pradhan ji and Nirala ji paying homage to Hridya Narayan Babu

सम्बंधित खबरें


55 दिनों के बाद गोपाल मधेपुरा में . . . .

मधेपुरा के 47वाँ जिलापदाधिकारी श्री गोपाल मीणा (आई.ए.एस.)ने अपनी थर्ड फेज की ट्रेनिंग पूरी करने हेतु मई 2015 के 27 तारीख को ए.डी.एम.श्री अबरार अहमद कमर को जिला का प्रभार सौंप मधेपुरा को अलविदा कहकर मसूरी के लिए प्रस्थान किया था | इस अवधि में मधेपुरा अपने गोपाल का इंतजार करता रहा तथा मीडिया कर्मी उनके दीदार का |

Abrar Ahmad Kamar . A.D.M
Abrar Ahmad Kamar . A.D.M

आई.ए.एस. के ट्रेनिंग सेंटर मसूरी में थर्ड फेज की ट्रेनिंग भली-भांति संपन्न कर श्री गोपाल मीणा 21 जुलाई को प्रभारी जिलापदाधिकारी श्री अबरार अहमद कमर से चार्ज लेकर दुबारा मधेपुरा के जिलापदाधिकारी का पदभार ग्रहण करेंगे |

सम्बंधित खबरें


होली ईद मनाओ मिलकर

मधेपुरा .आजकल रमजान का महीना है | इसी महीने में कुरान-ए-पाक़ धरती पर नाजिल हुआ था | भारतरत्न डॉ. कलाम बचपन से ही अपने सिरहाने में गीता और कुरान रखते आ रहे हैं और रामेश्वरम के मस्जित में नवाज एवं शिवमंदिर की परिक्रमा करते आ रहे हैं तभी तो कलाम न हिन्दू बने और न मुसलमान ! वे बने तो केवल और केवल भारत माता का सपूत और सुलझे सोच का एक नेक दिल इंसान | उन्होंने अपनी ज़िन्दगी में नये-नये पदचिन्ह बनाये | उन्हीं पदचिन्हों पर चलने वाले हजारों-लाखों में एक हैं – साहुगढ़ मधेपुरा निवासी तथा भू.ना.मंडल वि.वि. के परिसम्पदा/क्रीडा पदाधिकारी डॉ.शैलेन्द्र कुमार | वही शैलेन्द्र जो विगत पच्चीस वर्षों से सदा पाक़ रमजान के महीने में एक दिन खुद भी रोज़ा रखते हैं और साहुगढ़ मधेपुरा के हिन्दू-मुस्लिम नेक दिल इंसानों को इफ्तार पार्टी में ससम्मान बुलाते भी हैं |

Iftaar Party
Iftaar Party

यह भी जानें की इस इफ्तार पार्टी में कुलपति डॉ. विनोद कुमार , कुलसचिव डॉ. कुमारेश सिंह ,एन.एस.एस.ऑफिसर मो.लतीफ़, हरदिल अजीज हरिश्चन्द्र झा जी सहित सैकड़ों वि.वि. कर्मी ही नहीं बल्कि सिंघेश्वर के झिटकिया निवासी मो. गुलहसन से लेकर भिरखी के मो. मुरसिद सबों ने सिरकत की | इसके साथ-साथ पूर्व मंत्री राजेन्द्र प्रसाद यादव, पूर्व कुलानुशासक डॉ. शिव नारायण यादव, पूर्व प्राचार्य श्यामल किशोर यादव, प्राचार्य डॉ. अशोक कुमार, डॉ. मधेपुरी, डॉ. नरेश कुमार, डॉ.आलोक कुमार, डॉ. अरुण कुमार, डॉ. विनय कुमार चौधरी एवं अन्य गण्यमान देर तक अपनी उपस्थिति बनाये रहे तथा रमजान में खुदा की रहमत पाने के आसरे में बैठे रहे | नज़ारे को देखकर डॉ. मधेपुरी ने मधेपुरा अबतक से यही कहा –

होली ईद मनाओ मिलकर, कभी रंग को भंग करो मत !

भारत की सुन्दरतम छवि को, मधेपुरी बदरंग करो मत !!

सम्बंधित खबरें


लालू-नीतीश को छोड़ प्राय: सभी नेता रंगबाज हैं

मधेपुरा.सामने जहाँ तक नजर जाती है वहाँ लालू-नीतीश को छोड़ खड़ा कोई भी राजनेता हो या फिर राजनेत्री, चाहे सांसद हो या विधायक, चाहे शिक्षक हो या प्रोफेसर अथवा लोक-सेवक से लेकर ग्राम-सेवक तक प्राय: सभी अपने-अपने सफ़ेद बालों को रंग-रंग कर आये दिन रंगबाजों की संख्या बढ़ाते ही जा रहे हैं | सभी राजनेता खुद को आम लोगों के बीच कच्चे उम्र वाले जैसा दिखने का धोखा ही तो दिया करते हैं |

वहीँ दूसरी ओर बेरोजगारों की खड़ी फ़ौज उन्ही रंगबाजों से रंगदारी तहसिलने के लिए कभी-कभी बच्चों के खेलने वाला काला प्लास्टिक का रिवाल्वर हाथ में लेकर बस-ट्रेन या प्लेन के पैसेंजर को धोखा ही तो दिया करते हैं तभी तो सभी हाथ उठाकर और सिर झुकाकर खड़े हो जाते हैं | लेकिन हाँ ! हर हमेशा नकली कारोबार ही नहीं होता |

इधर कुछ दिनों से बिहार में रंगदारों की धूम मची हुई है | पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी से 10 लाख की रंगदारी मांगी गई तो वर्तमान मंत्री बीमा भारती से 5 लाख की | मधेपुरा के विधायक प्रो. चन्द्रशेखर हो या जद यू के बागी विधायक छातापुर के नीरज कुमार बबलू हो – दोनों को मोबाइल पर मेसेज भेजकर सेंट्रल बैंक के खाता नंबर- 3160610546 में 5-5 लाख रंगदारी जमा करने का फरमान दिया गया अन्यथा सपरिवार जान से मारने की धमकी | इतना ही नहीं , त्रिवेणीगंज की विधायिका अमला देवी हो या अल्प संख्यक आयोग के ओ.एस.डी. मो.दीवान जाफ़र हुसैन खां या फिर मधेपुरा का अंचल अधिकारी उदयकृष्ण यादव हो अथवा सहरसा कमिश्नरी का डॉ. भारत भूषण – यानी राजधानी पटना से लेकर अंचल तक सबों से मोबाइल पर 5 – 5 लाख रुपए की रंगदारी जिसने मांगी थी वही तो है – गिरोह का सरगना – निरंजन भगत , जो 15 दिन पहले जेल से बाहर निकला ही है | आलमनगर क्षेत्र का वह निरंजन हमेशा साथ में मोबाइल का 25 सिम रखता है | प्रभारी प्रधानाध्यापक ही नहीं वह बी.एल.ओ. भी है | निरंजन पर 30 लाख से अधिक का गवन का मामला दर्ज है जिसमें जेल भी गया था | रंगदारी मांगने के बाबत निरंजन पर पटना, मधेपुरा, पूर्णिया , सहरसा, त्रिवेणीगंज के थानों में दर्जनों प्राथमिकी दर्ज की गई है |

फिलहाल मधेपुरा के आरक्षी अधीक्षक आशीष भारती के गिरफ्त में है निरंजन भगत और उसका सहयोगी असगर अली अंसारी | गिरोह के अन्य रंगबाजों की खोज जारी है |

सम्बंधित खबरें


चुन…चुन…चुन : अच्छों को चुन  !!

मधेपुरा. देश के कुछ ही राज्यों में विधान परिषद हैं जिसमें बिहार भी एक है | जुलाई सात को बिहार विधान परिषद के स्थानीय निकाय कोटे की 24 सीटों के लिए सबसे अधिक 98% एवं सबसे कम 80% तक मतदान हुए | मतदान प्रतिशत सबसे अधिक नवादा और मुरलीगंज प्रखंड में तथा सबसे कम दरभंगा में रहा | मतदान सवेरे 8 बजे से संध्या 4 बजे तक हुआ | मतदान की समाप्ति के साथ ही 152 प्रत्याशियों का भाग्य मतपेटियों में बन्द हो गया | यह चुनाव होता है “प्रेफ़ेरेन्शिअल” | तभी तो इसमें ई.वी.एम. मशीन का उपयोग नहीं होता है | बिहार में पहली बार प्रत्याशियों के फोटोयुक्त बैलट पेपर का उपयोग किया गया तथा सभी बूथों पर विडीयोग्राफी करायी गयी | मतदान शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न हुआ | मतगणना 10 जुलाई को सवेरे 8 बजे से होगा |

मधेपुरा-सहरसा-सुपौल स्थानीय प्राधिकार निर्वाचन क्षेत्र के मधेपुरा जिले के कुल 2696 मतदाताओं में 2452 ने वोट डाले यानी 91% वोट डाले गये | सभी 13 प्रखंडों में मुरलीगंज में सबसे अधिक 98% तथा मधेपुरा सदर में सबसे कम 88% मतदान किये गये | मधेपुरा में विधान पार्षद विजय कुमार वर्मा मत डालकर भी अंत तक डटे रहे और आलमनगर में मंत्री नरेंद्र नारायण यादव अपने मताधिकार का प्रयोग किया | एम.एल.सी. विजय वर्मा के साथ डॉ. मधेपुरी , निराला जी, डॉ. नीरज, नरेश पासवान, विजेंद्र प्र. यादव, मो. जुम्मन अन्त तक जमे रहे |

मतदान के दौरान पोलिंग बूथ पर माइक्रो आब्जर्वर , जोनल मजिस्ट्रेट, गस्ती दंडाधिकारी एवं पुलिस बल की भी नियुक्ति की गयी थी | मधेपुरा के दोनों एस.डी.एम. संजय कु. निराला एवं मुकेश कु. साह , थानाद्यक्ष मनीष कुमार एवं आरसी उपाध्याय सहित अन्य अधिकारी बूथ की सम्पूर्ण गतिविधियों का जायजा मतपेटियों के सील होने तक लेते रहे |

सम्बंधित खबरें