मैट्रिक परीक्षा में एक मजदूर बाप रामविलास यादव का बेटा करण कुमार बना मधेपुरा जिला टॉपर

मधेपुरा जिला के मुरलीगंज प्रखंड में रघुनाथपुर पंचायत के वार्ड नंबर- 9 का रहने वाला है करण कुमार। एक ग्रामीण मजदूर रामविलास यादव का पुत्र है करण। मजदूरी कर बेटा को पढ़ा रहे हैं करण के अनपढ़ माता-पिता। करण के क्लास टीचर कृष्ण कुमार कहते हैं कि बी एल इंटर स्कूल मुरलीगंज का छात्र करण कुमार ने 475 अंक लाकर बिहार मैट्रिक बोर्ड में दसवां स्थान प्राप्त किया है और मधेपुरा जिला का टॉपर बना है। करण कुमार का सपना है भारतीय प्रशासनिक सेवा में जाने का यानि आईएएस बनने का।

बकौल करण कुमार कोरोना की वजह से लॉकडाउन लगा। स्कूल और कोचिंग आदि के बंद होने के कारण पढ़ाई में बाधाएं आई। फिर भी प्रखर इच्छाशक्ति एवं मां-बाप के शुभाशीष के चलते स्टेट में दसवां स्थान पाया। स्टेट टॉपर बनने से वंचित रह गया। तीन बहनों के साथ अकेला सबसे बड़ा भाई करण ने जिला टॉपर बनने का श्रेय अपनी माता गीता, पिता रामविलास और प्रधान शिक्षिका कविता नंदनी व विज्ञान शिक्षक कृष्ण कुमार सहित शिक्षक सिंटू आदि को दिया है।

चलते-चलते यह भी कि जिला में दो छात्राएं बनी सेकंड टॉपर। पहली है- सिंहेश्वर प्रखंड मुख्यालय के प्रोजेक्ट बालिका हाई स्कूल की छात्रा अंजली कुमारी और दूसरी है- उत्क्रमित हाई स्कूल जितापुर की छात्रा श्रुति कुमारी। दोनों ने 474-474 अंक लाकर संयुक्त रूप से जिले में दूसरा स्थान प्राप्त किया है। इन तीनों मेधावी छात्र-छात्राओं को समाजसेवी-साहित्यकार डॉ.भूपेन्द्र नारायण यादव मधेपुरी द्वारा भारत रत्न डॉ.एपीजे अब्दुल कलाम की पुण्यतिथि के अवसर पर “जो करेगा मधेपुरा को गौरवान्वित उसे करेंगे डॉ.मधेपुरी सम्मानित” कार्यक्रम के तहत सम्मानित किया जाएगा।

 

सम्बंधित खबरें