Industrial Revolution at Madhepura Bihar

मधेपुरा औद्योगिक क्रान्ति की राह पर

राज्य की नई औद्योगिक नीति के प्रावधानुसार डीएम मो.सोहैल ने मधेपुरा के स्वरुप को बदलने तथा विकास की राह पर आगे ले जाने हेतु पूरी रणनीति तैयार कर ली है | तभी तो 8 जुलाई को आयोजित ‘Investors Meet’ में देश-विदेश के लगभग 65 निवेशकों को आमंत्रित किया जा सका है |

अधिक संख्या में निवेशकों से प्रस्ताव प्राप्त होने की संभावनाओं के मद्देनजर डायनेमिक डीएम मो.सोहैल ने 11 सदस्यीय कमिटी का गठन भी कर दिया है | डीएम की अध्यक्षता वाली उक्त कमिटी में एसपी विकास कुमार उपाध्यक्ष होंगे और सदस्य होंगे- डीडीसी, जिला भू-अर्जन पदाधिकारी, उपायुक्त वाणिज्यिक कर पदाधिकारी, वन प्रमंडल पदाधिकारी सहित अनुमंडल पदाधिकारी मधेपुरा एवं उदाकिशुनगंज | साथ ही टेक्निकल साइड से 5 सदस्य बनाए गए हैं- वे हैं, विद्युत विभाग, पथ निर्माण विभाग, उच्च पथ प्रमंडल विभाग, ग्रामीण कार्य विभाग एवं लघु जल संसाधन विभाग के कार्यपालक अभियंता | डीएम द्वारा जिला उद्योग विभाग के महाप्रबंधक को इस कमिटी का सदस्य सचिव बनाया गया है | इस कमिटी की बैठक आवश्यकतानुसार आहुत की जाएगी |

यह भी जान लें कि आमंत्रित किए गए प्रमुख निवेशकों के नाम हैं- इम्पीरियल ट्यूब्स प्रा.लि., सिकेम नेक्सन, नॉर ब्रेम्स, टिकमेन इंडिया लि., मयूर ग्लास इंडस्ट्रीज लि., आर.के. फोम्स, स्टोन इंडिया लि., हिन्दुस्तान फाइबर्स ग्लास वर्क्स, वी. इंटर टेक्नोलॉजी, वी.ओ. मेटलस प्रा.लि., ए.इंजीनियर्स, ए. इक्यूपमेंट्स सहित अन्य ढेर सारे |

यहाँ यह भी बता देना जरूरी है कि जो कोई भू-धारी न्यूनतम 2 एकड़ से अधिक अविवादित जमीन निवेशकों के हाथ बेचना चाहते हैं उन्हें भी 8 जुलाई की बैठक में आमंत्रित किया गया है | साथ ही विकास के लिए समर्पित जिला पदाधिकारी मो.सोहैल द्वारा निवेशक एवं भू-दाताओं को सुविधा उपलब्ध कराने के उद्देश्य से उद्योग केन्द्र में ‘सिंगल विंडो सिस्टम’ स्थापित करा दिया गया है ताकि समस्याओं का त्वरित निष्पादन किया जा सके |

सम्बंधित खबरें