कोरोना के मद्देनजर 28 फरवरी तक डॉक्टरों एवं स्वास्थ्यकर्मियों की छुट्टी रद्द

कोरोना की तीसरी लहर से सारा विश्व परेशानियों से जूझ रहा है। बिहार में भी कल रात से रात 10:00 बजे से सुबह 5:00 बजे तक का नाइट कर्फ्यू लगा दिया गया है। वहीं आठवीं कक्षा तक के स्कूलों को भी 21 जनवरी तक बंद कर दिया गया है। नौ से बारहवीं तक एवं कॉलेज 50% उपस्थिति के साथ खुलेंगे। सिनेमा हॉल, क्लब, मॉल, जिम व पार्क भी बंद रहेंगे।

सरकारी व निजी दफ्तर 50% क्षमता से चलेंगे। शादी में 50 और श्राद्ध में 20 की मंजूरी दी गई है। दुकान 8:00 बजे रात के बाद बंद रहेगी। कोर्ट भी आधा फिजिकल और आधा वर्चुअल होगा। लॉक डाउन की स्थिति बनती नजर आ रही है, इसलिए बाहर काम कर रहे मजदूर घर लौटने लगे हैं।

बता दें कि बिहार में कोरोना संक्रमण की रोकथाम के मद्देनजर स्वास्थ्य विभाग ने सभी डाक्टरों एवं सभी स्वास्थ्यकर्मियों की छुट्टी 28 फरवरी तक रद्द कर दी है। केवल अध्ययन अवकाश और मातृत्व अवकाश को छोड़कर अन्य सभी छुट्टियां रद्द कर दी गई है।

जानिए कि घर-घर कोरोना की दवा पहुंचाने के लिए एमओयू जल्द होने वाला है। डाक विभाग और स्वास्थ्य विभाग के बीच जैसे ही एमओयू हुआ कि प्रशिक्षित डाकिया घर-घर कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करते हुए दवाइयां पहुंचाने लगेंगे। उम्मीद है इस सप्ताह में एमओयू हो जाएगा और कोरोना संक्रमितों को बाजार कीमतों के अनुरूप घर पर ही दवाएं मिलने लगेगी। घर पर दवाएं  मिलने से मरीजों को राहत मिलेगी।

सम्बंधित खबरें