बीएनएमयू में एक वर्षीय पीजी डिप्लोमा इन योगा थेरेपी कोर्स जल्द होगा चालू- कुलपति

भूपेन्द्र नारायण मंडल विश्वविद्यालय के पुराने परिसर यानी साउथ कैंपस स्थित धरना स्थल का उपयोग अब प्रतिदिन सुबह 6:00 से 7:00 बजे तक योग स्थल के रूप में किया जाएगा। कुलपति डॉ.अवध किशोर राय के द्वारा वहां पर सारी व्यवस्थाएं पूरी कर दी गई हैं- यथा दरी-त्रिपाल व मेट सहित शौचालय एवं पेयजल व स्पीकर सेट आदि। अब प्रतिदिन सुबह 6:00 से 7:00 बजे तक नियमित रूप से छात्र-छात्राओं, शिक्षक, कर्मचारियों व पदाधिकारियों के लिए योग कक्षा की व्यवस्था की गई है।

बता दें कि कुलपति डॉ.ए.के.राय ने विश्वविद्यालय के छात्र-छात्राओं, शिक्षक-कर्मचारियों एवं पदाधिकारियों को इस योग कक्षा में नियमित रूप से शामिल होने की अपील करते हुए यही कहा-

योग मानव जीवन के लिए बेहद जरूरी है। योग से हमारा शारीरिक, मानसिक, बौद्धिक एवं नैतिक विकास होता है। योग कक्षा के नियमित चलने से आने वाले दिनों में इस विश्वविद्यालय में सकारात्मक ऊर्जा का संचार होगा। विश्वविद्यालय की ओर से विश्व योग दिवस पर 21 जून को एक आकर्षक व भव्य समारोह का आयोजन भी किया जाएगा। सभी महाविद्यालयों में विश्व योग दिवस मनाया जाएगा।

इस अवसर पर विशिष्ट अतिथि व विश्वविद्यालय परिसंपदा पदाधिकारी डॉ.बिजेंद्र प्रसाद यादव, क्रीडा व सांस्कृतिक परिषद के संयुक्त सचिव डॉ.शंकर कुमार मिश्र, उप-कुलसचिव (वित्त) प्रो.सुभाष पोद्दार, विश्वविद्यालय योग प्रभारी पृथ्वीराज यदुवंशी, पतंजलि के जिला संयोजक व योग प्रशिक्षक एवं आरपीएम कॉलेज की एनएसएस ऑफिसर डाॅ.एन.के.निराला सहित छात्र नेता माधव कुमार, हरि कुमार, शांतनु यदुवंशी आदि ने एक स्वर से कुलपति के इस योग कक्षा उद्घाटन की सराहना करते हुए कहा कि योग कक्षा का शुभारंभ विश्वविद्यालय की सेहत के लिए सकारात्मक कदम है। सबों ने मनोविज्ञान विभाग द्वारा दिए गए प्रस्ताव- “एक वर्षीय पीजी डिप्लोमा इन योगा थेरेपी कोर्स” जल्द चालू करने हेतु कुलपति की सकारात्मक सहमति को सलाम किया।

सम्बंधित खबरें