बीएनएमयू का दूसरा भव्य दीक्षांत समारोह हुआ सम्पन्न

भूपेन्द्र नारायण मंडल विश्वविद्यालय मधेपुरा के दूसरे दीक्षांत समारोह में भाग लेने बिहार के महामहिम राज्यपाल सह कुलाधिपति लालजी टंडन 12:30 बजे दिन में संत अवध कीर्ति खेल मैदान में हेलीकॉप्टर से उतरे। महामहिम का स्वागत कुलपति, प्रतिकुलपति, जिलाधिकारी एवं आरक्षी अधीक्षक आदि ने किया। समारोह स्थल के करीब महामहिम को गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया।

बता दें कि महामहिम 1:00 बजे मंचासीन हो गये और उनकी अध्यक्षता में सर्वप्रथम समाजवादी मनीषी भूपेन्द्र नारायण मंडल की तस्वीर पर कुलाधिपति लालजी टंडन, शिक्षा मंत्री कृष्णनंदन प्रसाद वर्मा, कुलपति डॉ.ए.के.राय, प्रतिकुलपति डॉ.फारुख अली, कुलसचिव कर्नल नीरज कुमार आदि ने माल्यार्पण व पुष्पांजलि किया और तत्पश्चात दीप प्रज्ज्वलित किया गया। राष्ट्रीय गान, कुलगीत एवं सरस्वती वंदना से वातावरण संगीत में हो गया।

कार्यक्रम का आरंभ कुलपति डॉ.राय ने की और अपने विस्तृत संबोधन में उन्होंने यही कहा कि विश्वविद्यालय को ऊंचाई देने का सपना मेरे अंदर तूफान मचा रखा है। उन्होंने विश्वविद्यालय को ऊँचाई प्रदान करने हेतु शिक्षक, छात्र, अभिभावक एवं समाजसेवियों से सहयोग करने की मांग की। उनके क्रियाकलापों से कुलाधिपति पूरी तरह से संतुष्ट दिखे।

कुलाधिपति लालजी टंडन ने कहा कि उन्होंने सारे कुलपतियों के साथ एक बैठक कर जो निर्णय लिया है उन्हें अच्छी तरह सबों के द्वारा आगे बढ़ाया जा रहा है। मंडल विश्वविद्यालय के कार्य तो सर्वाधिक संतोषप्रद हैं जैसा रिपोर्ट दर्शाता है। अपने दीक्षांत समारोह भाषण में चर्चा करते हुए कुलाधिपति ने भूपेन्द्र बाबू सहित ऋष्य श्रृंग,भोलेनाथ, मंडन-भारती…… आदि का स्मरण करते एवं आशीष लेते हुए उपस्थित प्रतिभागियों से यही कहा कि मन केवल शिक्षा से ही नहीं बल्कि दीक्षा से होता है नियंत्रित। शिक्षा मंत्री श्री वर्मा ने उच्च शिक्षा प्राप्ति हेतु निर्धन किन्तु प्रतिभावान छात्रों के लिए नीतीश सरकार की नीतियों की विस्तृत चर्चा की। कुलाधिपति के हाथों दोनों सत्रों के लगभग 40 छात्रों को गोल्ड मेडल एवं शिक्षा मंत्री द्वारा 89 छात्रों को पीएचडी की उपाधि प्रदान की गई।

अंत में प्रति कुलपति डॉ.फारुख अली द्वारा धन्यवाद ज्ञापन किया गया। प्रतिकुलपति ने कोसी प्रमंडल सहित जिले के आलाधिकारियों, शिक्षकों, छात्रों एवं अभिभावकों के साथ-साथ मीडिया के लोगों की जमकर सराहना की। कुलाधिपति द्वारा समापन की घोषणा के बाद राष्ट्रीय गान के साथ दीक्षांत समारोह के कार्यक्रम-समापन की घोषणा कुलसचिव कर्नल नीरज कुमार ने की।

सम्बंधित खबरें